गोहत्यारों के खिलाफ पूरे प्रदेश में ताबड़तोड़ छापेमारी… रामपुर में दबोचे गये बाप बेटे तो एक निकाह में बनने वाला था गोमांस

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ जी  के नेतृत्व में भारतीय जनता की सरकार बनने के बाद गो कत्लखानों पर पाबंदी लगाने की घोषणा की गई थी. लेकिन इसके बाद भी उन्मादी गोतस्कर अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं तथा लगातार गोकशी को अंजाम दे रहे हैं. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले का है जहाँ एक निकाह में गोमांस पकाए जाने की सूचना पर योगी की रामपुर पुलिस ने छापेमारी की तथा पिता-पुत्र सहित 4 गोतस्करों को गिरफ्तार कर लिया. वहीं रामपुर में एक अन्य जिला बदर गोतस्कर याशीन कुरैशी की गिरफ्तारी हुई है. गोतस्कारों के खिलाफ रामपुर पुलिस की आक्रामक कार्यवाई के बाद गोभक्तों ने पुलिस का हार्दिक धन्यवाद किया है.

खबर के मुताबिक़, रामपुर की स्वार तहसील के उपनगर मसवासी के गांव सेमरा लाडपुर निवासी मोहम्मद अहमद के घर में निकाह कार्यक्रम चल रहा था. तभी पुलिस को सूचना मिली कि निकाह की दावत में गोमांस पकाया जा रहा है. सूचना के आधार परत पुलिस ने छापामार कार्यवाई की तथा गोवंशीय पशु का डेढ़ क्विंटल मांस बरामद कर लिया. मौके से पुलिस ने मोहम्मद अहमद, उसके पुत्र फजले, रिश्तेदार अरशद तथा पड़ोसी ज़फर को गिरफ्तार कर लिया लेकिन मांस विक्रेता अज़ीम मौके से फरार होने में सफल रहा. गोवध अधिनियम की धारा के अंतर्गत पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर गोतस्करों को जेल भेज दिया है.

वहीं दूसरी तरफ रामपुर के ही अजीमनगर क्षेत्र के नगलिया आकिल गाँव में जिला बदर गोतस्कर याशीन कुरैशी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. आरोपी याशीन पर पहले से ही थाने में कई मुकदमे दर्ज थे. बताया गया है कि याशीन कुरैशी को पुलिस ने महीनों पहले जिला बदर कर दिया था. रविवार को पुलिस को मुखविर से सूचना मिली कि जिला बदर याशीन गाँव में ही है तथा गोकशी की तैयारी कर रहा है. सूचना मिलते ही हलका प्रभारी कमलेश यादव ने अपनी टीम के साथ घेराबंदी करके याशीन कुरैशी को पकड़ लिया. मौके से पुलिस को वो जीवित गाय भी मिली, जिसका वह क़त्ल करने वाला था. पकड़े गये आरोपी को पुलिस ने जेल भेज दिया है.

Share This Post