इलाहाबाद के जिस बी लाल पर वर्षों से लगते थे ईसाईकरण के आरोप योगीराज में उसके हाथों में लगी हथकड़ी.. जानिए किस अपराध में

विदित हो कि क्रिश्चयन स्कूल को बाहर से फण्ड आता है और उस फण्ड का गलत इस्तेमाल होता है. अब इसी मामले में पुलिस ने दबिस बनाना शुरू

कर दी है जिसके परिणाम स्वरूप क्राइम ब्रांच ने काटजू रोड पर बिना मान्यता के यूइंग क्रिश्चयन स्कूल को संचालित कर कई करोड़ रुपये कमाने के आरोप में

स्कूल के प्रबंधक विनोद बी लाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.
मिली जानकारी के मुताबिक विनोद बी लाल कि पत्नी शांति लाल तथा चार अन्य आरोपियों का स्टे खारिज कराने के लिए हाईकोर्ट में अर्जी लगाई गई है.

आपको

बता दे कि विनोद बी लाल शुआट्स के निदेशक प्रशासन भी हैं.
क्राइम ब्रांच के एसपी बीके मिश्रा से बातचीत में उन्होंने बताया कि बलुआ घाट स्थित जमुना क्रिश्चियन कालेज की शाखा के रूप में शाहगंज इलाके के काटजू मार्ग

पर 1980 में कक्षा आठ तक का यूइंग क्रिश्चियन स्कूल खोला गया था. तब से अब तक इस कालेज की मान्यता नहीं ली गई. जिसकी शिकायत भाजपा नेता

दिवाकर नाथ त्रिपाठी ने डीएम से की थी.

जिसमें अवैध रूप से स्कूल संचालन के साथ-साथ कई करोड़ की फीस और छात्रवृत्ति आदि का अनुदान हड़पने का आरोप

लगाया गया था.
क्राइम ब्रांच की जांच में अब तक इस स्कूल को अवैध मानते हुए कार्रवाई की गई. उसी आधार पर 21 अगस्त को थाना शाहगंज में स्कूल प्रबंध समिति एवं

संचालकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. शनिवार शाम विनोद बी लाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

Share This Post