Breaking News:

जब सादे वर्दी में चंदौली एसपी ने मारी एंट्री तो खुल गई पोल, दरोगा सहित तीन सिपाही हटाएं गये


चंदौली / उत्तर प्रदेश 

चंदौली जनपद के पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने गुरूवार की रात सादे वेश में चेकिंग करने निकल पड़े। एसपी को पुलिस की मिलीभगत से पुल पर आवागमन शुरू करने की शिकायत मिली थी।

जिसके बाद शिकायत की सच्चाई जानने रात में सादे वेश में मौके पर पहुंचे थे। एसपी के मौके पर पहुंचते ही एक दरोगा और दो सिपाहियों की पोल खुल गई।

जिसके बाद एसपी ने दरोगा और दोनों सिपाही चुनाव कार्यालय से संबद्ध कर दिया। बता दें कि 16 मई को धानापुर में प्रधानमंत्री की चुनावी सभा होनी है।

जिसको देखते हुए दो दिन पहले बैरियर बलुआ पुल पर बैरियर लगाकर भारी वाहनों के रोक को हटा लिया गया था। जिसकी जानकारी होते ही ट्रक चालकों ने पुलिस की मिलीभगत से पुल से आवागमन शुरू कर दिया।

जिसकी शिकायत किसी ने एसपी संतोष कुमार से करते हुए पुलिस को पैसे लेकर पुल से वाहन पार कराने की बात कहीं। जिसकी सच्चाई जानने गुरुवार की रात एक बजे पुलिस अधीक्षक सादे वेश में जांच करने बलुआ पुल पहुंच गए।

उन्होंने ट्रक चालकों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वे एक हजार रुपये प्रति ट्रक पुलिस वालों को देते है। मौके पर सौ से अधिक ट्रकों की कतार लगी थी।

जिसके बाद एसपी थाने पर पहुंचे और थानाध्यक्ष से पूछताछ की। लेकिन थानाध्यक्ष ने वसूली से इनकार कर दिया। एसपी ने बताया कि वसूली की शिकायत पर जांच की गई।

दरोगा सहित तीनों पुलिसकर्मियों को चुनाव कार्यालय से संबद्ध कर दिया गया है। निलंबन के लिए चुनाव आयोग को पत्र भेज दिया गया है।

वेब जर्नलिस्ट 

प्रशान्त सिंह 

9264915248


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...