अधिकारियों की लापरवाही के कारण खुले आसमान के नीचे शिक्षा ग्रहण करने को मजबूर छात्र,सुदर्शन न्यूज की टीम पहुंचने पर शिक्षा विभाग में मचा हड़कंप

चंदौली / उत्तर प्रदेश 

चंदौली जनपद के नौगढ़ ब्लाक अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय गोड़टुटवां है इस विद्यालय में भवन,शौचालय, बाउंड्रीवाल नहीं है। बच्चे खुले आसमान के नीचे पढ़ने को मजबूर हैं। सर्व शिक्षा अभियान के तहत सब पढ़े सब बढ़ें का नारा दिया जा रहा है।

सरकार शिक्षा पर पानी की तरह पैसा बहा रही है वहीं प्राथमिक विद्यालय गोड़टुटवां बदहाली का आंसू बहा रहा है। सरकार बच्चों का भविष्य सुधारने का दावा करती है। वहीं ये विद्यालय अधिकारियों की लापरवाही के कारण सरकार के दावे की पोल खोल रहा है।,

*इस विद्यालय में 51 बच्चे पढ़ते है* एक प्रधानाध्यापक, दो शिक्षामित्र, एक सहायक अध्यापक की नियुक्ति की गयी है। विद्यालय का भवन न होने के कारण सारा रजिस्टर दूसरे के घऱों में रखा जाता है। प्रधानाध्यापक रमाकांत प्रसाद का कहना है कि *भवन न होने के कारण बच्चों को पेंड़ के नीचे बैठाकर पढ़ाना पड़ता है।*

थोड़ी भी बारिश होने पर बच्चों को छुट्टी देनी पड़ती है। वहीं ग्रामीणों का कहना है कि *ग्राम प्रधान बिंदा देवी व प्रधानपति संतोष कुमार* की लापरवाही से विद्यालय में मिड डे मील नहीं बन पाता है। दूध और फल वितरित भी नहीं किया जाता है

इस विद्यालय की स्थिति बेहद चिंता जनक है। यहां बच्चों को पानी पीने के लिए एक हैन्डपम्प है वो भी खराब है। कई बार सम्बंधित अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से शिकायत की गई लेकिन समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है। इस विद्यालय में शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों का भविष्य शिक्षा विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के कारण अंधकारमय हो गया है।

प्रशान्त सिंह

वेव जर्नलिस्ट 

92649 15248

 

विडियो देखे 👇

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW