काफी दिन से वो “राहुल” बन कर कर रहा था अपराध.. गिरफ्तार हुआ तो नाम निकला “मुंतियाज़” .. अपराध भी और एक बड़ी साजिश भी

वो पुलिस उत्तर प्रदेश के सबसे सतर्क पुलिस बल नॉएडा का था जिसने समय रहते अपराध और साजिश के जीवंत रूप एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जो न जाने कितने बड़े , दूरगामी और खतरनाक मंसूबे पाल कर चल रहा था . गौतमबुद्ध नगर की सतर्क पुलिस बल ने अपराध और साजिश के इस गठजोड़ को ज्यादा समय तक चलने नहीं दिया . समय रहते नाम तो दूर मजहब तक साजिशन बदल कर अपराध करने वाले इस अपराधी को दबोच कर गौतम बुद्ध नगर की पुलिस ने समाज को भरोसा दिया शांति और सुरक्षा का . ये सनसनीखेज मामला है उत्तर प्रदेश के दिल्ली से सटे ग्रेटर नॉएडा का .
विदित हो कि खुद को हाईटेक करने के चक्कर में पुलिस के शिकंजे में फंसते अपराधियों ने अब नया तरीका निकला है जिसमे वो अपना नाम तो दूर मजहब तक साजिशन बदल कर अपराध करना शुरू कर चुके हैं . अभी बरेली में बबलू पंडित नाम से अपराध करने वाले एक अपराधी का असली नाम जान कर देश चौका ही था कि अचानक ही एक और वैसा ही मामला सामने आया गौतम बुद्ध नगर से . देश भर में अपराध के नए नए तरीके अपनाने वाले कारनामो के बीच में उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा की दादरी पुलिस ने तेजी दिखाते हुए एक ऐसे शख्स गिरफ्तार किया है जो अपना असली नाम तो दूर मजहब छिपा कर अपराध करता था और समाज में कई लोगों के लिए बना था सिरदर्द की एक बड़ी वजह .
गौतमबुद्ध नगर की दादरी पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया ये व्यक्ति राहुल नाम बताता था ओर क्षेत्र में फैलता था दहशतगर्दी. लेकिन गिरफ्तारी के बाद इसका नाम सामने आया “मुंतियाज” तो लोग उसका नाम जानकार लोग दंग रह गये। इस सनसनीखेज मामले का पर्दाफाश करने वाले दादरी कोतवाली प्रभारी निरीक्षक श्री रामसेन ने बताया कि 12/11/18 को दादरी पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान एक अभियुक्त राहुल उर्फ मुंतियाज पुत्र अनवर नि0 ग्राम महावड थाना बादलपुर गौतमबुद्धनगर को ग्राम नगंला नैनसुख गेट के पास से समय 20.45 बजे एक अवैध तमंचा 315 बोर मय 02 जिन्दा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया है ओर भेजा गया है जेल. स्थानीय जनता गौतमबुद्ध नगर पुलिस की इस कार्यवाही और सतर्कता की मुक्त कंठ से प्रशंसा कर रही है . इतना ही नहीं गौतमबुद्ध नगर पुलिस के इस बेहद जरूरी खुलासे की गूँज पूरे प्रदेश में है..
Share This Post

Leave a Reply