Breaking News:

कांग्रेस नेता हनुमंत राव के खिलाफ एफआईआर, पुलिस से बदसलूकी का लगा आरोप

हैदराबाद : पुलिस इंस्पेक्टर को गालियां देने और धमकाने के आरोप में कांग्रेस सेक्रेटरी और सांसद रहे वी. हनुमंत राव को शनिवार को हिरासत में ले लिया गया। वाकया उस समय हुआ जब विधानसभा परिसर में राव मीडिया पॉइंट पर पत्रकारों से बात करना चाह रहे थे।

उनको विधानसभा परिसर में मीडिया से बातचीत करने नहीं दिया। जबकि पुलिस का कहना था कि पूर्व सांसद या विधायक को विधानसभा परिसर में मीडिया से बातचीत करने की इजाजत नहीं है। वहीं, हनुमंत राव ने मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पर तानाशाही रवैया अपनाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि उन्हें अपनी बात रखने का मौका नहीं दिया गया।

मैं चाहता था कि सरकार आम लोगों के साथ किस तरह का व्यवहार कर रही है, उसे सामने रखूं। उनका तानाशाही रवैया हर दिन बढ़ता ही जा रहा है। मैंने किसी के साथ बदतमीजी नहीं की। सरकार आम लोगों की आवाज दबाने का प्रयास कर रही है। पूर्व सांसद ने कहा, ‘तुम लोगों ने धरना चौक को प्रदर्शनकारियों की पहुंच से बाहर कर दिया है और अब मुझको मीडिया पॉइंट पर जाने से रोका जा रहा है।

हम लोकतंत्र में रह रहे हैं या तानाशाही में? मुझे रोकने वाले तुम होते कौन हो? मैं अखिल भारतीय कांग्रेस समिति का सचिव हूं और मैं निश्चित तौर पर रिपोर्टरों से बात करूंगा।’ वहीं, मामला बढ़ने पर सैफाबाद पुलिस स्टेशन में पुलिस ने हनुमंत राव के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 353, 294-बी और 504 के तहत मामला दर्ज कर लिया।

Share This Post