भाजपा आई आजम के सामने… सेना पर बयान मामले में दर्ज हुआ मुकदमा

अखिलेश सरकार में मंत्री रहे आज़म खान के सेना पर रेप जैसा घिनोना आरोप लगाया था। अब आज़म के इस बयान को लेकर पूरे देश में उनके खिलाफ आक्रोश पैदा हो गया है। आजम खान के इस बयान ने देश की सीमा पर हमारी रक्षा के लिए अपनी जान की बाजी लगा देने वाले जवानों का मनोबल तोड़ने का काम किया है। आजम खान द्वारा दिए गए इस बयान के बाद देश में उनके खिलाफ सजा देने की बात उठने लगी है। भाजपा नेता आकाश सक्सेना उर्फ हनी ने उनके खिलाफ सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। 
पुलिस ने आज़म के खिलाफ आईपीसी की 153ए और 505 धारा के तहत केस दर्ज किया है। आकाश सक्सेना ने अपने बयान में कहा कि आजम खान ने 27 जून को सीमा पर तैनात भारतीय सैनिकों का अपमान करके विद्रोह का दुष्प्रेरणा और राष्ट्रद्रोह किया है। उन्होंने कहा कि आजम खान ने भारत की राष्ट्रीय एकता को खंडित करने का काम किया है। जो भारत के संविधान और भारतीय सैनिकों से कार्यशैली के विपरीत है, जवानों के साथ-साथ भारतीयों को शर्मशार किया है और घृणात्मक भाव दिखाया है। 
बता दें कि आजम खान ने 27 जून को सेना पर विवादित बयान देते हुए कहा था कि झारखंड, कश्मीर में दहशतगर्द फौजी महिला के प्राइवेट पार्ट्स काट ले जाती हैं, वहां महिलाएं रेपिस्ट फौजियों से बदला लेने के लिए मजबूर हैं। आजम खान का यह बयान देश के लिए ये शर्मनाक है। जहां पूरी दुनिया में भारतीय सेना और उनकी दरियादिली की तारीफ की जाती है, वहीं पर आजम खान जैसे नेताओं से देश के लिए क्या सन्देश दिया जा सकता है इसपर भी सवाल उठने लगा है। 
Share This Post