मेरठ में जारी है मजहबी उन्मादियों का आतंक.. हिन्दुओं के पलायन की खबरों के बीच मंदिर में कीर्तन कर रही महिलाओं पर उन्मादियों का हमला, बरसाईं गोलियां

प्रखर हिन्दू राष्ट्रवादी नेता योगी आदित्यनाथ शासित उत्तर प्रदेश के मेरठ में मजहबी उन्मादियों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है. कैराना की तर्ज पर मजहबी उन्मादियों के डर से मेरठ से हिन्दुओं के पलायन की खबरें सामने आने के बाद मचे हड़कंप के बीच मेरठ से एक और रौंगटे खड़े कर देने वाली खबर सामने आई है. खबर के मुताबिक़, मेरठ के लिसाड़ी गेट थाने के पास प्रहलादनगर स्थित मंदिर के सामने सोमवार को मुस्लिम समुदाय के दो युवकों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर इलाके में दहशत फैला दी तथा धमकाते हुए भाग गये. हालाँकि देर रात इस मामले में मेरठ पुलिस ने होटल मालिक के बेटे और उसके दोस्त को हिरासत में ले लिया है.

सहारनपुर में 2 अधिकारियों को बुरी तरह पीटा सपा नेता ने.. गुनाह दबाया जा रहा “बैट” के शोर में

प्राप्त हुई जानकारी के मुताबिक़, मेरठ के लिसाड़ी गेट थाना के प्रहलादनगर में कुटी के पास एक प्राचीन मंदिर है. सोमवार को कुछ महिलाएं मंदिर में भजन-कीर्तन कर रही थीं, इस दौरान स्कूटी सवार मुस्लिम समुदाय के दो युवक आए और कई राउंड ताबड़तोड़ फायरिंग की. जिससे अफरातफरी मच गई और महिलाएं दहशत में आ गईं. दोनों आरोपित गाली-गलौज करते हुए वहां से फरार हो गए. जिसके बाद स्थानीय लोगों ने इस घटना पर जमकर हंगामा किया. मेरठ पुलिस  ने बताया कि आरोपित और उनकी स्कूटी का नंबर सीसीटीवी में कैद हो गया है.

जनसंख्या नियंत्रण क़ानून के लिए सफलता की तरफ सुरेश चव्हाणके जी का अथक प्रयास.. उत्तराखंड सरकार ने पंचायत चुनाव में लागू किया इसे

इलाक़े में तनाव फैलने से बचाने के लिए स्थानीय व्यापारियों व भाजपा नेताओं ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की. प्रह्लादनगर कॉलोनी के लोगों का कहना है कि क्षेत्र में छेड़छाड़ की घटनाएँ काफी बढ़ गई है. कॉलोनी में गेट लगाने की माँग के साथ लोगों ने थाना के बाहर प्रदर्शन भी किया. लोगों ने बताया कि कि सम्प्रदाय विशेष के लोग यहाँ अक्सर छेड़छाड़, लूटपाट, मारपीट और स्टंटबाज़ी की घटनाओं को अंजाम देते रहते हैं. अगर कोई सज्जन विरोध करता है तो ये मारपीट पर उतारू हो जाते हैं. लोगों ने कहा कि समुदाय विशेष के लड़के गलियों में गुटबंदी करते हैं और फिर सीटी बजाते हुए इधर-उधर मँडराते रहते हैं. ये लोग शोरशराबा भी करते हैं.

योगी शासित यूपी का मेरठ बना कैराना.. मजहबी उन्मादियों के खौफ से पलायन को मजबूर हिन्दू.. फिर भी वो डरा हुआ है

सीओ कोतवाली दिनेश चंद शुक्ला ने बताया कि पुलिस (Police) ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर ईदगाह चौराहा स्थित आशिक अली होटल के मालिक मो. चांद का बेटा और उसके दोस्त को देर रात हिरासत में ले लिया है. पुलिस ने दोनों आरोपितों के कब्जे से वह पिस्टल भी कर ली है, जिससे फायरिंग की गई थी. आरोपितों ने बताया कि यह पिस्टल नौचंदी मेले से खरीदी थी. पुलिस ने स्कूटी भी बरामद कर ली, जो सीसीटीवी फुटेज में दिख रही है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

Share This Post