दुर्दांत माफिया मुख्तार अंसारी के 2 करीबियों को लखनऊ में मारी गई गोली

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में उस समय हड़कंप मच गया जब जेल में कुख्यात माफिया मुख्तार अंसारी के दो करीबियों शाहिद जाफरी तथा उसके भाई नामवर जाफरी को अज्ञात लोगों ने गोली मार दी. शाहिद जाफरी तथा नामवर जाफरी दोनों ही कुख्यात माफिया मुख्तार अंसारी के बेहद ही करीबी हैं. गोली लगने से घायल शाहिद जाफरी तथा नामवर जाफरी दोनों को लखनऊ के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है तथा पुलिस मामले की जांच कर रही है कि किसने और क्यों कुख्यात मुख्तार के करीबियों को गोली मारी.

घटना उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली क्षेत्र की है. जानकारी के मुताबिक़, यहां राज्य के ही मऊ क्षेत्र का मूल निवासी शाहिद जाफरी जेल में बंद कुख्यात माफिया अपराधी मुख्‍तार अंसारी का प्रतिनिधि है. बताया गया है कि कल दोनों भाई नक्खास निवासी दोस्त आसिफ रिजवी के साथ हजरतगंज में हबीबुल्लाह स्टेट रोड स्थित मिराज द लाउंज में मंगलवार दोपहर 2 बजे पहुंचे. शाम 6:30 बजे तीनों लाउंज से बाहर निकले. दोनों भाई अपनी बुलेट की ओर बढ़े ही थे कि पहले से घात लगाए अपाचे बाइक सवार दो बदमाशों ने उनके ऊपर चार गोलियां दाग दीं.

बताया गया कि शाहिद के कंधे, सीने और नामवर के कंधे में गोली लगी. आसिफ ने बदमाशों को दौड़ाया तो उन्होंने उस पर भी दो राउंड फायरिंग की ओर भाग निकले. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, गोली लगने के बावजूद दोनों भाई बुलेट पर बैठे और सीधे एसएसपी आवास पहुंचे. उस समय वहां मीडिया ब्रीफिंग चल रही थी. दोनों भाइयों को खून से लथपथ देख एसएसपी आवास पर अफरा-तफरी मच गई. पुलिस का कहना है दोनों घायलों को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है तथा सीसीटीवी की मदद से हमलावरों की जानकारी जुटाई जा रही है.

Share This Post