अपनी बहन से हवस मिटाता था फ़िरोज़. उसकी माँ फरजाना ने ही करा डाला उसका कत्ल

एक वो माँ जिसने कभी जिस बेटे को अपनी कोख में 9 माह पाला हो और उसी का कत्ल अपनी आँखों के आगे अपने पैसे दे कर करवा दे ये बात बेहद ही सनसनीखेज और आश्चर्यजनक होगी हर किसी के लिए .. पर उस से भी बेहद आश्चर्यजनक ये है कि कोई कैसे अपनी बहन को ही अपनी हवस का शिकार बना सकता है वो भी अपनी माँ को इतना मजबूर कर के कि अंततः उसे अपने बेटे का ही कत्ल करवाना पड़े वो भी पैसे दे कर .

मामला सहारनपुर का है जहाँ २ दिन पहले शहर के बीचो बीच खाली प्लाट में एक लाश मिली . लाश की शिनाख्त करने कोई नहीं आया . पर चौकस पुलिस ने आखिर में सारा माजरा पता ही लगा लिया . मामला शहर सहारनपुर का ही है . यहाँ फरज़ाना की १ बेटी और १ बेटा थे . बेटे का नाम फ़िरोज़ था जो नशे का इतना आदी था कि उसे अपनी बहन ही हवस मिटाने के लिए मिली . अपनी बहन का बलात्कार करने वाले इस कुकर्मी के कर्मो का जब उसकी माँ फरज़ाना विरोध करती तो वो उसे भी धमकी देता रहता था .

अंत में शायद ही इतिहास का पहला मामला रहा होगा जब एक माँ ने अपने बेटे की सुपारी दी . ये सुपारी उस मां ने अपने एक मुंहबोले भाई शाहनवाज को दी . शाहनवाज ने अपने मुंहबोले भाई होना का पूरा फ़र्ज़ निभाया और अपने साथ नासिर को भी मिला लिया . इन तीनों ने साजिश के तहत फ़िरोज़ को खूब शराब पिलाई ..जब शराब पी कर फ़िरोज़ बेसुध हो गया तब शाहनवाज और नासिर ने फ़िरोज़ की माँ फरज़ाना के ही आगे उसके बेटे की गर्दन काट डाली और मौत के बाद उसकी लाश सूनसान पड़े २ प्लाट के बीच छोड़ कर चला आया . दोनों हत्यारों को इस कार्य के लिए लगभग 12 हज़ार रूपये भी फरज़ाना ने दिए थे .

पहले तो इस परिवार ने पुलिस को गुमराह करने के लिए तमाम बहाने और कहानियां बनाई पर अंत में पुलिसया पूछताछ के आगे सब एक एक कर के टूटते चले गए और आखिर में सबने अपना अपना जुर्म क़ुबूल कर लिया . फिलहाल पुलिस ने तत्परता दिखते हुए मां फरज़ाना , उसकी बेटी के साथ हत्या करने वाले शाहनवाज और नासिर को भी गिरफ्तार कर लिया है .

फिलहाल पुलिस के साथ सहारनपुर की जनता के लिए भी ये अपनी तरह का पहला मामला था जब एक भाई अपनी बहन के साथ बलात्कार का आदी हो और एक मां अपने बेटे की सुपारी दे कर क़त्ल करवा रही थी .

Share This Post