भारत में पहली बार गौ मांस के साथ पकड़े गये चीन के नागरिक.. उनके साथ पकड़ा गया भारत का ही एक गौहत्यारा .. जानिये उसका नाम

कुछ समय पहले भारत में गौ रक्षको के खिलाफ छेड़े गये राष्ट्रव्यापी अभियान का असर अब कुछ ऐसा दिखने लगा है कि उसके पीछे विदेशी ताकतों का भी प्रभाव देखने को मिलने लगा है . ये पहली बार देखने को मिला है कि भारत में चीन के नागरिक गौ मांस के साथ पकड़े गये हों . लेकिन सवाल ये उठता है कि उन्हें गौ मांस भारत के अन्दर उपलब्ध किस ने करवाया . इसका जवाब इन चीन के गौ मांस के शौकिनो के साथ पकड़ा गया एक अन्य अभियुक्त है .

ज्ञात हो कि ये गिरफ्तारी गत शुक्रवार को महाराष्ट्र के नागपुर से हुई है . यहाँ की पुलिस ने सतकर्ता दिखाते हुए गाय का मांस रखने के लिए 5 गौ हत्यारों को गिरफ्तार किया जिनमें से तीन नागरिक तो चीन के निकले . ये गिरफ्तारी 18 जनवरी की है जब पुलिस ने नागपुर के खापा में गुमगांव माइन्स की ओर जाती हुई एक एसयूवी कार को रोका। पुलिस को उस गाड़ी में 10 किलो मांस मिला जिसके बारे में सवाल करने पर गाड़ी में सवार आरोपी इस बात का जवाब नहीं दे सके कि ये मांस किस का है।

पुलिस को संदेह हुआ तो उसने चीन निवासी 55 साल के ली चू चुंग, 51 साल के लू वेंग चुंग और 53 साल के लू वांग कांग को गिरफ्तार कर लिया. लेकिन इनके ही साथ पुलिस को 29 साल का अफरोज शेख भी मिला जिसको हिरासत में ले लिया गया . इनकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जब मांस को टेस्ट हेतु लैब भेजा तो मालूम हुआ कि वह गौमांस था। इसके बाद पांचों पर महाराष्ट्र एनिमल प्रीवेंशन एक्ट लगा है। पांचों को कोर्ट में पेश किया गया तो कोर्ट ने सभी को 14 फरवरी तक की न्यायिक हिसारत में रखने को कहा है। जहां चार आरोपियों को नागपुर सेंट्रल जेल भेज दिया गया वहीं ली चू चुंग को बीमार होने के कारण सरकारी अस्पताल में रखा गया है।

Share This Post