दो-दो लाख के 5 नक्सलियों ने पुलिस के आगे घुटने टेके. हथियार रखकर बोले- हमें क्षमा करें

महाराष्ट्र में पांच नक्सलवादियों ने पुलिस के सामने हथियार रखकर आत्मसमर्पण किया है। इन नक्सलियों में दो दंपति भी शामिल हैं। इन पांच नक्सलियों पर सरकार  करीब 16 लाख रुपए का इनाम घोषित किया था। पुलिस के मुताबिक, शनिवार को पांच नक्सलियों जयराम कोमती उर्फ जग्गू, उसकी पत्नी देवे जुरू पुंगाटी-गवड़े उर्फ रस्सो, अनिल बुधु गवड़े और उसकी पत्नी सन्नी बुस्कू पुंगाटी-गवड़े और कमलेश लच्छू तेलामी ने अपने हथियार पुलिस के सामने डाल दिए। 
राज्य सरकार की नियमों के अनुसार, आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलवादियों को पुनर्वासित किया जाएगा। जिसके तहत उन्हें भूमि आवंटित की जाएगी, वित्तीय मदद दी जाएगी, रोजगार के अवसर मुहैया कराए जाएंगे और अन्य सुविधाएं दी जाएंगी। भामरगढ़ मिलिशिया के कमांडर गवड़े के सिर पर छह लाख रुपए का इनाम था और वह बेजुरपल्ली, येरागुडा, टोंडर और कुछ अन्य जगहों पर भीषण नक्सली हमलों में संलिप्त रहा था।
पुलिस ने गवड़े पर हत्या सहित 17 गंभीर मामले दर्ज कर रखे थे। उसकी पत्नी के सिर पर भी चार लाख रुपए का इनाम था। अनिल बुधु गवड़े 2003 से नक्सली था और उसकी पत्नी 2006 से इसकी सक्रिय सदस्य थी। दोनों के सिर पर दो-दो लाख रुपए का इनाम था। तेलामी 2012 से नक्सली गतिविधियों में सक्रिय था और उसके सिर पर भी दो लाख रुपए का इनाम था।
राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW