Breaking News:

सन्त आशाराम जी पर सुदर्शन के अभियान को धीरे- धीरे स्वीकार कर रहा समाज… पूर्व जज व पूर्व राज्यपाल ने चरण स्पर्श करके लिया आशीष

नाबालिग से यौन उत्पीड़न के आरोप में जेल में बंद आसाराम का पैर हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश और पूर्व राज्यपाल ने पैर छुए है.आसाराम का पैर छूना चर्चा का विषय़ बना हुआ है. बता दें कि राजस्थान की जोधपुर अदालत में आसाराम के मामले की सुनवाई हो रही है.इस दौरान कड़ी सुरक्षा में आसाराम को अदालत में पेश किया जाता है।सुंदर नाथ भार्गव ने उनके पैर छुए. उसके बाद उनके दो सुरक्षाकर्मीयों ने भी आसाराम के पैर छूकर आशीर्वाद लिया.वहीं जब मीडिया कर्मियों ने भार्गव से सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि, मै किसी काम से जोधपुर आया था.

जब मुझे पता चला तो मै आसाराम बापू का आशीर्वाद लेने आ गए. जब आसाराम से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भार्गव उनके पुराने भक्त हैं वह मुझे कई सालों से जानते हैं. वह मुझसे मिलना चाहते थे. इसलिए वह यहां आए. उनकी अदालत में अच्छी पहचान है.बता दें की 80 साल के हो चुके आसाराम काफी समय से जेल में बंद हैं.

आसाराम और उनके पुत्र नारायण साई के खिलाफ सूरत की दो बहनों ने अलग अलग शिकायतों में बलात्कार और गैर कानूनी तरीके से बंधक बनाने सहित कई आरोप लगाये थे. बड़ी बहन ने आरोप लगाया था कि अहमदाबाद के निकट स्थित आश्रम में वर्ष 2001 से 2006 में प्रवास के दौरान आसाराम ने उसका यौन शोषण किया था जिसपर अदालत ने अभी फैसला नहीं दिया है. 

Share This Post