भारत की अर्थव्यवस्था पर भी साजिशो का वार. कोलकाता में पकडे गये 4 आर्थिक अपराधी जिसका सरगना है अकरम अली

कहना गलत नहीं होगा कि भारत के दुश्मनों ने भारत को चौतरफा वार कर के संकट में लाने का मन बना लिया है . इस साजिश को अंजाम देने के लिए कभी आतंकवाद का सहारा , कभी लव जिहाद का सहारा, कभी उन्माद का सहारा , कभी दंगो को हथियार बनाया जाता रहा .. लेकिन अब सीधे सीधे आर्थिक अपराध से भी भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ पर चोट की जा रही है . ज्ञात हो कि ममता बनर्जी शासित पश्चिम बंगाल से एक ऐसी ही अपराध का खुलासा हुआ है .

ध्यान देने योग्य है कि पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के शहर की पुलिस ने यहां सतर्कता दिखाते हुए गत शुक्रवार को 4,25,000 रुपये मूल्य के नकली भारतीय नोट जब्त किए और इस संबंध में चार लोगों को गिरफ्तार किए। कोलकाता पुलिस के विशेष कार्यबल ने चार लोगों को  कोलकाता के मोहम्मद अकरम अली, मालदा जिले के अनारुल हक और कोलकाता के मोहम्मद गुड्ड कुरेशी व २४ परगना निवासी एक अन्य को उस समय गिरफ्तार किया, जब वे नरकेलडांगा इलाके में नोटों का आदान-प्रदान कर रहे थे..

आगे भी उनके बीच और बड़ी डील होने वाली थी जो पुलिस की सतर्कता के चलते असफल रही .  पुलिस ने 2,000 रुपये के 163 नकली नोट और 500 रुपये के 198 नकली नोट चारों के पास से बरामद किए। सभी को अदालत में पेश किया गया। इस मामले के बाद पश्चिम बंगाल में अपराध के बढ़ते स्तर और बदलते स्वरूप की भी सच्चाई सामने आई है . ज्ञात हो कि ममता बनर्जी इस समय केंद्र की राजनीति में कदम रखने  लिए महागठबंधन के प्रयासों में व्यस्त   हैं.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW