SBI के एटीएम से निकले नोट से गांधी की तस्वीर गायब


प्रधानमंत्री मोदी ने नकली नोटों को समाप्त करने के लिए 500 और 2000 के नोट को बंद कराया था. उनका मनना था कि ऐसा करने से हम काले धन को समाप्त कर सकेंगे और नकली नोटों को भी रोक सकें. इसके बाद ही 500 और 2000 के नए नोट मार्किट में लाए गए. इसके बावजुद नकली नोटों का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है.
 
हाल ही में मध्य प्रदेश के चंबल इलाके में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां SBI के एक एटीएम से 5000 का नोट निकला गया पर इस नोट में गाँधी की तस्वीर ही नहीं थी. इसी के साथ ही पहले 2000 का नकली नोट निकला था, उसमें भी गाँधी जी की तस्वीर नहीं छापी थी. साथ ही आपको बता दें कि यह मध्य प्रदेश की तीसरा मामला था.    

मुरैना जिले में एसबीआई के ब्रांच से ऐसे नोट निकले हैं. जानकारी से पता चला है कि इसे बदलने के लिए आरबीआई को भेजा जा रहा है. उस इलाके में रहने वाले गोवर्धन शर्मा शुक्रवार रात शहर के एसबीआई एटीएम से पैसे निकले तो 2000 के नोट पर गाँधी का फोटो ही नहीं छापा हुआ था. उन्होंने एटीएम के गार्ड को इसके बार में बताया तो गार्ड ने एटीएम में मौजूद नंबर पर कॉल किया.

बता दें कि इससे पहले 23 अप्रैल को शिवहर के किसान पुरुषोत्तम नागर एसबीआई एटीएम से पैसा निकालने गए तो उन्हें 2,000 के नकली नोट मिले थे। उन्होंने शहर के एसबीआई ब्रांच में चेक डिपॉजिट किया था। इसके बाद उन्होंने दोपहर 12.02 से 12.17 के बीच 4 बार कुल 40,000 रुपये निकाले, लेकिन जब उन्होंने नोट जांचा तो उसमें से गांधी जी की तस्वीर गायब थी।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...