Breaking News:

10 साल की बच्ची पर नजर थी उसके 2 जीजाओं की.. रिश्तों का ऐसा मोल शायद किसी ने सोचा भी न हो

पंजाब के लुधियाना से रिश्तों को कलंकित करने वाला एक बेहद ही सनसनीखेज मामला सामने आया है जहाँ 2 जीजाओं ने 10 वर्षीय नाबालिग साली के साथ बलात्कार किया. दरिन्दे 6 महीने तक डरा धमकाकर मासूम के जिस्म के साथ खेलते रहे तथा उसकी आबरू को रौंदते रहे. प्रताड़ना से दुखी होकर मासूम बच्ची ने गांव जाने के लिए ट्रेन पकड़ी परंतु गलत ट्रेन में चढ़ जाने के कारण जम्मू पुलिस ने बच्ची को अपनी कस्टडी में लिया. जम्मू में सामाजिक संस्था व महिला पुलिस के समक्ष मासूम ने अपनी दास्तां सुनाई. जिसके बाद पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल करवाया और जीरो एफआईआर दर्ज कर लुधियाना पुलिस को केस ट्रांसफर किया. इस वारदात में संलिप्त मुख्य आरोपी व लड़की के जीजा सलमान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जबकि दूसरा आरोपी जीजा ऐजाज फरार है.

जांच अधिकारी जनकराज ने बताया कि करीब 7 महीने पहले रेशमा (काल्पनिक नाम) गांव साबू खारी जिला मेरठ से लुधियाना में छावनी मोहल्ला स्थित बड़ी बहन के पास रहने के लिए आई. मासूम रेशमा की बड़ी बहन शबाना गर्भवती थी. जिस कारण 7 महीने पहले बड़ी बहन ने छोटी बहन को गांव से लुधियाना बुलाया. शुरुआत में सलमान ने घर में रेशमा के साथ अश्लील हरकतें की.  फिर एक दिन घर में रेशमा को अकेली देख सलमान ने उसे हवस का शिकार बना डाला. सलमान अक्सर मौका देख रेशमा को अपनी हवस का शिकार बनता रहा. इस घिनौनी हरकत में सलमान ने ऐजाज को भी भागीदार बना लिया तथा फिर दोनों आसानी से घिनौनी हरकत पर पर्दा डाल मासूम को हवस का शिकार बनाते रहे, बारी-बारी प्रकृतिक और अप्राकृतिक ढंग से मासूम के साथ दुष्कर्म करते रहे.

दोनों जीजा की बढ़ती यातनाओं से दुखी होकर रेशमा ने भाग कर गांव जाने के लिए ट्रेन पकड़ी परंतु गलत ट्रेन में चढ़ जाने के कारण वह जम्मू पहुंच गई.  अकेली बच्ची को देख जम्मू जीआरपी की पुलिस थाने ले आई. जहां सामाजिक संस्था और महिला पुलिस की मदद से मासूम ने सारी दास्तां सुनाई। दास्तां सुनाते वक्त बच्ची काफी डरी और सहमी हुई थी. जिसके बाद जम्मू पुलिस ने तुरंत बच्ची का मेडीकल करवाया और जीरो एफआईआर दर्ज कर केस लुधियाना पुलिस को ट्रांसफर किया. थाना डिवीजन नंबर-4 की पुलिस ने तुरंत कारवाई करते हुए मुख्य आरोपी सलमान के घर पर रेड कर आरोपी को धर दोबाचा जबकि ऐजाज को भनक पड़ते ही वह फरार हो गया. इलाका पुलिस ने सलमान को अदालत समक्ष पेश कर जेल भेज दिया है. सलमान अपनी पत्नी के साथ लुधियाना के छावनी मोहल्ला में रहता है जबकि ऐजाज भी छावनी मोहल्ला में अकेला किराए के कमरे में रहता है. ऐजाज की पत्नी और 2 बच्चे यू.पी के गांव में रहते हैं. पुलिस आरोपी ऐजाज की तलाश में छापामारी कर रही है.

Share This Post