बरेली में नाबालिग का सामूहिक बलात्कार.. दरिंदगी की दास्तान लिखने वाले का नाम कासिम

उत्तर प्रदेश के बरेली से मानवीयता को शर्मशार करने वाला सामने आया है जहाँ एक नाबालिग किशोरी को एक दरगाह से अगवा कर सामूहिक दुराचार किया गया. अपहरण के बाद 4 दिन तक किशोरी के साथ दरिन्दे हैवानियत करते रहे. जानकारी के मुताबिक थाना किला क्षेत्र की रहने वाली 16 वर्षीय लड़की की मां मानसिक रोगी है. हवा के चक्कर के कारण उसे हजरत शाहदाना वाली दरगाह ले जाया गया था और उसकी बेटी भी साथ में थी. वही दरगाह पर आजमनगर बर्फ वाली गली का रहने वाला कासिम पुत्र मुन्ना अपनी भांजी का इलाज कराने लाया था.

कई हिन्दुओं के हत्यारे शहाबुद्दीन को सुप्रीम कोर्ट ने भेजा था जेल, पर तेजस्वी यादव भी कहाँ पीछे हटने वाले थे.. उन्होंने निकाला नया रास्ता

बताया गया है कि कासिम दरगाह से किशोरी को दरगाह से नशा देकर अगवा कर ले गया और अपने घर आजम नगर ले जाकर कोल्ड ड्रिंक में नशा देकर बलात्कार किया। किशोरी ने बताया कि पहले से मौजूद युवकों द्वारा जबरन दारू भी पिलाई गयी और नशा देकर कई लोगों ने दुराचार किया. किशोरी जब 4 दिन बाद बरामद हुई तो उसकी हालत गम्भीर थी. इसके बाद किशोरी को अस्पताल में भर्ती कराया गया.

दूषित हो रही देवभूमि.. देहरादून की लड़की के साथ शोएब रूहानी ने किया ऐसा कि कांप उठी मानवता

किशोरी से पूछताछ करने के बाद दविश देकर पुलिस ने 3 आरोपी कासिम, शहवाज, परवेज को हिरासत में ले लिया है. एसपी सिटी अभिनन्दन के अनुसार लड़की के साथ एक शख्स ने बुरा काम करने का कबूला है. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया और उसे न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है. साथ ही आगे की कार्यवाही की जा रही है. वही सामूहिक गैंग रेप के बारे में कहा कि सभी तत्वों की जाँच की जा रही है. मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद ही इसके बारे में बताया जा सकेगा तथा उसके आधार पर कार्यवाही होगी.

जिन बौद्धों के खिलाफ इस्लामिक मुल्क फतवा जारी कर रहे, उन्हीं बौद्धों की शरण में गया श्रीलंका

Share This Post