Breaking News:

ममता शासित बंगाल में ये हाल हुआ महिलाओं का.. पैसा वापस लेने गई महिला के साथ ऐसी दरिंदगी कि कांप जाए रूह

ममता बनर्जी शासित पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी से एक महिला के साथ क्रूरतम तरीके से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म का आरोप ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के एक पंचायत सदस्य और उसके तीन साथियों पर लगा है. पीड़िता का आरोप है कि केन्द्र सरकार की आवास योजना के तहत घर पाने के लिए दिए गए ‘कट मनी’ को वापस मांगने पर टीएमसी नेता और उसके साथियों ने उसके साथ बलात्कार किया.

मामला जलपाईगुड़ी से करीब 16 किलोमीटर दूर मायनागुरी का है. पुलिस ने बताया कि पीड़िता ने बीते सोमवार को मोहम्मद बुलबुल आलम, जैदुल इस्लाम, जैनुल आबदीन और अजीजुल हक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. इस मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग ने बंगाल के डीजीपी वीरेंद्र को कार्रवाई करने को लेकर नोटिस भेजा है. पुलिस के मुताबिक, महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म के सभी आरोपी फरार हैं, जिन्हें गिरफ्तार करने के लिए पुलिस प्रयास कर रही है.

पुलिस को दी गई शिकायत में पीड़िता ने कहा है कि पिछले साल उसने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर के लिए अप्लाई किया था, जिसके बाद पंचायत मेंबर बुलबुल आलम ने उससे 7000 रुपये लिए और भरोसा दिलाया कि उसे घर मिल जाएगा. अपनी शिकायत में पीड़िता ने कहा, ’14 अगस्त को अपने कटमनी के पैसे वापस लेने के लिए मैं बुलबुल आलम के घर गई. वह अपने तीन साथियों के साथ वहां बैठा था. उन चारों ने मुझे अंदर खींचा और मेरा रेप किया.’

पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि इतना ही नहीं बल्कि रेप करके बाद बुलबुल आलम महिला के घर गया और रेप के बारे में किसी से भी जिक्र न करने की धमकी दी. मामले में जलपाईगुड़ी के एसपी अविशेख मोदी ने कहा कि मामला दर्ज कर लिया गया है तथा पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है. बता दें कि पश्चिम बंगाल में ‘कट मनी’ रिश्वत को कहते हैं. जनप्रतिनिधि किसी भी सरकारी काम के लिए लोगों से जबरन ‘कटमनी’ के रूप में रिश्वत लेते हैं. यही कटमनी पीड़ित महिला से भी ली गई थी, जिसे वापस मांगने पर उसके साथ गैंगरेप किया गया.

Share This Post