शर्म को भी शर्मशार कर दिया मोहम्मद सिमराज ने… बकरी के साथ तब तक किया बलात्कार जब तक वह मर न गई

आखिर वह कौन सी सोच है जो अपनी हवस की भूख में इतनी ज्यादा अंधी हो जाती है कि शर्म को भी शर्मशार कर देती है? आखिर वह कौन सी सोच है जिसके कारण महिला तो छोड़िए, जानवर भी सुरक्षित नहीं है? ये सोच कभी अपनी माँ की आयु की महिलाओं को दरिंदगी का शिकार बनाती है तो कभी उन मासूम बच्चियों के बचपन को अपनी हवस के पैरों तले कुचल देती है, जिन्हें ठीक से सी दुनिया के बारे में भी नहीं पता होता. अब ये सोच इतनी ज्यादा गिर चुकी है कि जानवरों के साथ भी व्यभिचार करने से बाज नहीं आ रही है.

इंसानियत को शर्मशार करने वाली हैवानियत भरी इसी सोच से ग्रसित मोहम्मद सिमराज ने एक गर्भवती बकरी के साथ तब तक बलात्कार किया, जब तक उसकी मौत न हो गई. मामला बिहार की राजधानी पटना का है. बताया गया है कि मंगलवार को ग्रामीण पटना के परसा बाजार इलाके में मोहम्मद सिमराज नामक एक युवक ने एक बकरी के साथ दरिंदगी की. जानकारी के मुताबिक, मधेपुरा जिले का निवासी मोहम्मद सिमराज पटना में दिहाड़ी मजदूर का काम करता है. मंगलवार की शाम तकरीबन 4 बजे अपनी शारीरिक भूख मिटाने के लिए उसने अपने पड़ोसी के यहां से एक बकरी जबरन उठा ली. और फिर उसे घर के पीछे ले जाकर उसके साथ अप्राकृतिक यौनाचार किया.

देर शाम जब महजनी देवी(जिसकी की वो बकरी थी) ने घर से गायब बकरी की तलाश शुरू की. कुछ देर बाद अपने घर के पीछे ही उसने बकरी को मृत हालत में पाया. महिला को देखते ही हैवान मोहम्मद सिमराज भाग गया. आनन-फानन में महजनी देवी ने परसा बाजार पुलिस स्टेशन में इस घटना को लेकर मामला दर्ज कराया. प्राथमिकी में महजनी देवी ने कहा कि उसकी बकरी सफेद रंग की थी और वह 3 महीने गर्भवती थी. इस पूरे मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद स्थानीय पुलिस हरकत में आ गई और आरोपी युवक को तुरंत गिरफ्तार कर लिया. बुधवार की सुबह मृत बकरी का पोस्टमार्टम और मेडिकल जांच कराने के लिए उसे पटना के वेटरनरी कॉलेज भेज दिया गया. बकरी के साथ बलात्कार का मामला सामने के बाद लोगों में आक्रोश व्याप्त है कि मोहम्मद सिमराज जैसे लोग जब बकरियों को नहीं छोड़ रहे हैं तो महिलाओं के बारे में इनकी सोच क्या होगी.

Share This Post