4 मामाओं ने मिलकर किया अपनी ही भांजी का बलात्कार.. घर था उसकी नानी का

केंद्र सरकार तथा राज्य सरकारों द्वारा बलात्कार के खिलाफ जितने कड़े कानून बनाये जा रहे है, बलात्कार के मामले भी उतने ही ज्यादा बढ़ते जा रहे हैं. नारी वर्ग को मात्र एक मनोरंजन का साधन समझने वाली ये जाहिल, बहशी आदमियत वाली सोच अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रही है, यहाँ तक कि ये जाहिल दरिन्दे अपनी हवास की भूख में रिश्तों नातों की मर्यादा को भी तार-2 कर रहे हैं. ताजा मामला गुजरात के अहमदाबाद से सामने आया है जहाँ एक २१ वर्षीय युवती के साथ उसकी माँ के चार भाई अर्थात उसके मामाओं ने बलात्कार किया. जिन मामाओं के बीच वह युवती खुद को महफूज समझती थी, वो मामा ही उसकी इज्जत के प्यासे बने हुए थे.

समझा नहीं आता है कि आखिर वो कौन सी सोच है जो महिलाओं को हमेशा भूखी नजरों से देखती है? आखिर वो कौन सी सोच है महिलाओं को मात्र अपनी हवस की पूर्ती का साधन मात्र समझती हैं? ये सोच अपनी हवस की भूख में इतनी ज्यादा अंधी हो जाती है कि वह अपने रिश्ते नाते तक भूल जाती है? आखिर ये सोच आती कहाँ से है जो महिलाओं को मात्र एक भोग की वास्तु समझती है ? खबर के मुताबिक़ अहमदबाद में अपनी नानी के घर पर युवती के साथ जिन्होंने बलात्कार किया है वो अधेड़ उम्र के हैं तथा उनके नाम खालिद कुरैशी, अनीस कुरैशी, दानिश कुरैशी  और ताविश कुरैशी. चारौ बलात्कारी सगे भाई हैं तथा युवती के मामा हैं. युवती ने अहमदाबाद के शाहपुर थाना में दिए शिकायत पत्र में अपने मामाओं पर जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप लगाया है. पुलिस ने लड़की के बयान के बाद मामला दर्ज कर लिया है.

पुलिस के मुताबिक एक जून 2018 को पीड़िता के साथ शाहपुर स्थित उसके नानी घर पर रेप किया गया. दर्ज की गई एफआईआर के मुताबिक पीड़िता अपनी नानी के घर में सो रही थी तभी उसके 4 मामा उसके कमरे में घुसे और उन चारों ने मिलकर जबरन गैंगरेप किया. शाहपुर इंस्पेक्टर आरपी घरसंडिया ने बताया, ‘युवती ने अपनी शिकायत में कहा है कि उनमें से दो लोगों ने उसके हाथ और पैर पकड़ लिए जबकि दो लोगों ने उसकी नानी और मामी के सामने रेप किया. युवती ने चारों आरोपियों की पहचान खालिद (48), अनीस (44), दानिश (42) और ताविश (45) के रूप में की है तथा अपना मामा बताया है. पुलिस का कहना है कि युवती का मेडिकल कराया है तथा आरोपियों को कड़ी सजा दी जायेगी.

Share This Post