गुजरात सरकार का कड़ा फैसला, गौहत्या करने पर होगी ये सजा…

अहमदाबाद : अब गौहत्या करने पर उम्रकैद की सजा सुनाई जाएगी। गुजरात विधानसभा में बजट सत्र के आखिरी दिन संशोधित गाय संरक्षण कानून पेश किया गया। बजट सत्र में यह कानून पास हो गया है। इस कानून के तहत अब गौ हत्या करने वालों को उम्रकैद की सजा हो होगी। इसके तहत बीफ लाने ले जाने, बेचने और अन्य अपराधों में 1 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक का जुर्माना और सजा हो सकती है।

बता दें कि गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए नरेंद्र मोदी ने 2011 में 1954 के पशु संरक्षण अधिनियम में संशोधन करते हुए राज्य में गौ हत्या, गौमांस बिक्री और गौमांस को इधर उधर ले जाने पर पूर्णतया प्रतिबंध लगा दिया था। गौरतलब है कि गुजरात पशु संरक्षण (संशोधन) अधिनियम 2011 ने पहले गाय को मारने और गोमांस को कहीं ले जाने का दोषी पाए जाने पर सात साल कारावास और 50 हजार रुपये जुर्माने की सजा का प्रवाधान था।

इससे पहले राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने कहा था कि गाय के हत्यारोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाई का कानून इसी सप्ताह में विधानसभा से पारित किया जाएगा। रूपानी ने कहा था कि गाय या गौवंश की हत्या गैरकानूनी है। मुख्यमंत्री रूपानी ने कहा था कि गुजरात में पहले से ही गौवंश की हत्या का कानून मौजूद है जोकि तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी लेकर आये थे लेकिन अब इस कानून को और सख्त बनाने की जरूरत है।

Share This Post