ट्विटर पर लगातार हिन्दुओं को अपमानित करने वाला बर्खास्त पुलिस वाला संजीव भट्ट गिरफ्तार. गुजरात दंगो में खुलेआम उतर गया था हिन्दुओ के खिलाफ

ट्विटर को हिन्दू विरोध और राजनीति का अखाडा बना देने वाले , बर्खास्त होने के बाद भी वर्दी में फोटो डाल कर लोगों को गुमराह करने वाले संजीव भट्ट को आख़िरकार उस कानून का सामना करना ही पड़ रहा है जिसकी रक्षा के लिए उन्होंने कभी वर्दी पहनी थी लेकिन अपने कुकृत्यों के चलते उन्हें उस से हाथ धोना पड़ा था . अपनी हिन्दू विरोधी छवि को असल जीवन में वर्दी के रहते जाहिर करने वाले संजीव भट्ट को अगर सही माना जाता तो गुजरात दंगो का दोषी हिन्दू समाज ही था लेकिन उनका फैलाया ये झूठ ज्यादा दिन चल नहीं पाया और न्यायोचित कार्यवाही करते हुए उनकी वो वर्दी छीन ली गयी जिस को पहन कर वो हिन्दू समाज पर कहर ढा रहे थे .

इसके बाद उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल को राजनीति के साथ हिन्दू विरोध का अड्डा बना डाला . उनकी बेहद अशोभनीय टिपण्णी गौ माता और हिन्दू संगठनों पर साफ़ देखी जा सकती है जिसके चलते उन्हें पाकिस्तान जैसे देशों से फालोवर मिल गए .. ज्ञात हो की एक बार फिर से कानून ने किया है अपना कार्य और गुजरात के पूर्व आईपीएस संजीव भट्ट की बीस साल पुराने एनडीपीएस के एक मामले में धरपकड की गई है। वर्दी में अपनी हनक को जनता के ऊपर दिखाने वाले इस बर्खास्त पुलिस अधिकारी ने अपनी इसी मानसिकता के चलते पाली के एक वकील के खिलाफ झूठा केस दर्ज किया था।

वकील ने न्याय के लिए सीआईडी क्राइम का दरवाजा खटखटाया था जिसके बाद अब सी आई दी क्राइम इस मामले में पूछताछ कर रही है।गुजरात उच्च न्यायालय के आदेश पर सीआईडी क्राइम इस मामले में पुन: जांच कर रही थी। इस मामले में सबूत हाथ लगने के बाद सीआईडी क्राइम ने बुधवार सुबह ही पूर्व आईपीएस संजीव भट्ट व अन्य 6 पुलिस कर्मियों की धरपकड की है।भट्ट तब बनासकांठा के पुलिस अधीक्षक थे तथा संपत्ति खाली कराने को लेकर पाली के वकील का मामला उनके समक्ष आया था।भट्ट ने पुलिस निरीक्षक व्यास सहित पांच अन्य पुलिसकर्मियों की एक टीम वकील को पकडने के लिए पाली भेजी थी। वर्ष 1998 में यह मामला काफी चर्चित रहा था तथा अदालत ने सीआईडी क्राइम को इसकी पुन: जांच के आदेश किए थे।इसके पहले वर्ष 2012 में उनकी पत्नी श्वेता भट्ट अहमदाबाद की मणिनगर विधानसभा सीट से गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री एवं वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ चुनाव भी लड चुकी हैं जिसमे उन्हें बुरी तरह से मुँह की खानी पड़ी थी ..

Share This Post

Leave a Reply