राजस्थान पुलिस में सिपाही या बलात्कारी.. कसम खाकर बोल रही वो लड़की कि- “थाने में बारी बारी हुआ उसका बलात्कार”

राजस्थान पुलिस की चुरू पुलिस का ऐसा शर्मनाक कारनामा सामने आया है, जिससे पूरी राजस्थान पुलिस की विश्वसनीयता पर ही सवाल खड़े हो गये हैं. इस बीभत्स घटना के बाद लोग यही सवाल पूंछ रहे हैं कि राजस्थान पुलिस में सिपाही हैं या फिर बलात्कारी. राजस्थान के चुरू जिले के सरदार शहर में पुलिस हिरासत में युवक की मौत और उसकी भाभी को थर्ड डिग्री देने व थाने में ही सामूहिक बलात्कार की पीडि़ता कसम खाकर बता रही है कि थाने में उसके साथ पुलिसवालों ने बारी-बारी से बलात्कार किया.

पीड़ित महिला ने पुलिस निरीक्षक समेत सात पुलिसवालों पर आरोप लगाये है कि उन्होंने गलत तरीके से उसकोको बंधक बनाकर रखा और उसके साथ गैंगरेप किया. महिला का आरोप है कि पुलिस ने चोरी के एक मामले में उसके देवर को 6 जुलाई को पकड़ा था. पुलिसवालों ने महिला के देवर को हिरासत में इतना प्रताड़ित किया कि उसकी मौत हो गई थी. महिला का आरोप है कि उसे भी अवैध तरीके से थाने में हिरासत में रखा गया और उसके साथ रेप किया गया. अधिकारियों ने महिला के देवर की हिरासत के मौत मामले में न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं.

महिला ने आरोप लगाया कि पुलिसकर्मियों ने उसकी उंगलियों को कुचलने के साथ ही नाखून तक उखाड़ डाले और उसे प्रताड़ित करने के साथ उससे सामूहिक दुष्कर्म किया. उसे इतना पीटा गया कि उसकी आंखों, गले और हाथों से खून बहने लगा. पुलिस कस्टडी से मरे युवक के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि महिला अपने देवर की मौत की चश्मदीद गवाह थी. उसकी गवाही से पुलिस वालों पर कार्रवाई तय थी इसलिए 6 पुलिस वालों ने महिला के साथ हैवानियत की. पीड़ित महिला को जयपुर के एसएमएस अस्पताल में इलाज करवाया जा रहा है. जहां उसकी हालत स्थिर बनी हुई है.

मामला तूल पकड़ने के बाद इस चुरू के एसपी राजेंद्र कुमार को हटा दिया गया है और डीएसपी भवंर लाल को भी सस्पेंड कर दिया गया है. डीएसपी के खिलाफ भी विजिलेंस की जांच बिठाई गई है. सरदारशहर के वर्तमान थानाधिकारी महेन्द्र दत्त शर्मा ने बताया कि शनिवार को महिला के बयान के आधार पर तत्कालीन थानाधिकारी और अन्य छह पुलिस कर्मियों के खिलाफ रविवार को एफआईआर दर्ज कर ली गई है. मामले की जांच सीआईडी-सीबी द्वारा की जा रही है.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW