Breaking News:

हाईटेक हो रहे हैं UP के मौलवी और क़ाज़ी. वीडियो कालिंग हो होने शुरू हुए निकाह.. योगी राज में सबका विकास


यकीनन इसको ही सबका साथ सबका विकास का सबसे बेहतर उदाहरण माना जा सकता है जहाँ पर तकनीकी का इतना बेहतर इस्तेमाल किया जा रहा हो . एक लड़की की शादी जो लड़के के सऊदी अरब में होने और उसको छुट्टी न मिलने के चलते काफी समय से अटक रही थी वो निकाह उच्चतम तकनीकी का इस्तेमाल कर के क़ाज़ी ने करवाया और वर पक्ष व् कन्या पक्ष दोनों ख़ुशी ख़ुशी न सिर्फ तकनीकी बल्कि गाँव इलाके में भी बेहतर नेटवर्क व् सुविधा आदि होने के चलते प्रसन्न नजर आये . कुछ लोग इसको उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के सुशासन से भी जोड़ कर देख रहे हैं क्योकि कभी वो समय था जब या तो बिजली न होने के चलते मोबाइल में बैटरी चार्ज नहीं होती थी या टावर आदि की अनुपलब्धता से नेटवर्क नहीं होता था .

विदित हो कि हाईटेक तकनीति के इस प्रयोग का ये मामला आया है उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले से . यहाँ पर एक मुस्लिम के निकाह से जुड़ा रोचक मामला आम जनता में बन गया है चर्चा का विषय . क्षेत्र है गोंडा लखनऊ मार्ग पर पड़ने वाला करनैलगंज , जहाँ का निवासी रमजान पुत्र लियाकत सऊदी अरब में नौकरी करता है। मंगलवार को परिजनों ने उसका निकाह तय किया, लेकिन सऊदी अरब् का संवेदनहीन मालिक उसको उसके निकाह तक के लिए छुट्टी देने के लिए तैयार नहीं था और लग रहा था कि उसके निकाह की दिन या तारिख आख़िरकार टालनी ही पड़ेगी. इसी के चलते दोनों पक्षों में मायूसी भी छाई थी .

जब वह घर नहीं आ सका तो काजी ने उसका निकाह वीडियो कॉलिंग के जरिए कराया। यह यूपी में मुसलमानों के बीच संभवत पहला वाकया है, जब तलाक के बजाए कोई निकाह फोन के जरिए हुआ है। युवक के परिजनों का कहना है कि उनके बेटे रमजान का निकाह हमने गोंडा के राधाकुंड निवासी अलीम की पुत्री अकबरी के साथ तय किया। लेकिन उसे अरब से छुट्टी न मिलने पर सब परिवारीजन परेशान हो गए। इसके बाद तोड़ निकाला कि हम तय समय पर बारात लेकर गोंडा के एक मैरिज हॉल में पहुंचें। निकाह सम्पन्न होने के बाद मंगलवार देर शाम लड़के के परिजन दुल्हन को विदा कराकर ले गए। इस निकाह की पूरे इलाके में चर्चा हो रही है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share