जानिए कैसे मारी गई वो हिना जिसने अदनान के लिए त्याग दिया था धर्म…

कौशांबी के कोखराज थाना क्षेत्र में 5 जुलाई की सुबह हाईवे के किनारे एक लाश मिली थी। शव की पहले पहचान नहीं हो सकी, कुछ दिनों बाद फेसबुक के जरिये एक अंजान शख्स ने फोन कर पुलिस को शव की पहचान हिना तलरेजा के रूप में बताई। फेसबुक आईडी से पुलिस मोबाइल नंबर व घर को ट्रेस कर मां तक पहुंची। तब पता चला कि हिना तलरेजा सिविल लाइन्स में हुक्का बार में काम करती थी। फिर हिना के दोस्त अदनान खान और मो. खालिद के बारे में पता चला और फिर सनसनीखेज खुलासा हुआ कि हिना ने अदनान खान से लव मैरिज की थी।

तब से ही पुलिस अदनान की तलाश कर रही थी लेकिन अदनान व हिना के नजदीकी दोस्त फरार हो गये थे। 4 जुलाई की शाम अपने दोस्त विक्की के जरिये हिना को कानपुर में शॉपिंग के लिए ऑफर किया गया जिसमे फिर हिना तैयार होकर देर शाम को विक्की, खालिद और अदनान के साथ कार से कानपुर हाईवे पर चल पड़े। जिसमे कार के अंदर सभी ने जमकर बीयर पी और कौशांबी के एक ढाबे पर गाड़ी रोक कर खाना खाया और फिर कार आगे बढ़ा दी जिसमे थोड़ी देर बाद चलती हुई कार में हिना के साथ एक-एक कर सभी ने गैंगरेप किया। हिना चीखती-चिल्लाती रही लेकिन उसके पति और उसके दोनों दोस्तों के सर पर हैवानियत सवार थी।
रेप करने के बाद अदनान ने पिस्टल हिना के माथे पर सटा दी और गोली चला दी और फिर गोली के घाव में चाकू डाल कर और बड़ा कर दिया गया फिर मोबाइल और पर्स अपने पास रखकर उसका शव खेत में फेंक दिया गया। हिना की शिनाख्त होते ही तीनों घर छोड़कर मुंबई भाग गये लेकिन तब पुलिस का शक यकीन में बदल गया। पुलिस टीम मुंबई पहुंची तो अदनान इलाहाबाद भागा और वहां उसका स्वागत पुलिस ने करते हुये उसे गिरफ्तार कर लिया। अदनान के दोनों साथी अभी फरार हैं। एसपी कौशांबी अशोक कुमार पांडे ने बताया कि अदनान खान ने अपने 2 साथियों के साथ मिलकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया और शव को हाईवे के पास खेत में फेंका गया और तीनों मुंबई भाग गये लेकिन अभी भी आरोपी के 2 साथी अभी फरार हैं।
Share This Post

Leave a Reply