लड़की बोली मुस्लिम लड़के से- “अगर सच में मुझसे प्यार करते हो तो आओ हिन्दू बनो” .. अब सोच में पड़ गया है वो

वो लडकी आधुनिक सेक्यूलर विचारधारा को मानती थी तथा एक मुस्लिम लड़के से प्यार करती थी. मुस्लिम लडका भी उस लडकी से कहता था कि वह उसे बेहद प्यार करता है तथा उसके लिए कुछ भी करेगा. लेकिन लड़की के परिजनों ने जब इस रिश्ते को अस्वीकार कर दिया तो वह मुस्लिम लड़के के साथ भाग गई तथा कोर्ट मैरिज की अर्जी लगा दी. इसके बाद जो हुआ वो उन सभी लड़कियों की आंखें खोलने वाला है जो कहती हैं कि लव जिहाद कुछ नहीं होता है.

कई बंगलादेशियो को दबोच चुकी सहारनपुर पुलिस ने अब दबोचे 2 पाकिस्तानी

मामला गुजरात के सूरत का है. 22 अप्रैल को जैसे ही दोनों नानपुरा मैरिज रजिस्ट्री ऑफिस में शादी के लिए पहुंचे तो लड़की के माता पिता को इसकी भनक लग गई. वह हिन्दू संगठनों को लेकर रजिस्ट्री ऑफिस पहुँच गये. लड़की के परिजनों तथा हिन्दू संगठनों ने जब लड़की को लव जिहाद की हकीकत के बारे में समझाया तो लड़की के दिमाग में हलचल हुई. उसने अपने मुस्लिम प्रेमी से कहा कि वह उससे शादी करने को तैयार है लेकिन उसको इस्लाम त्यागकर हिन्दू बनना पड़ेगा तथा नॉन वेज खाना छोड़ना पड़ेगा.

देवभूमि में बढ़ रहा संक्रमण तो जनता खुद क़ानून ले रही हाथ में.. फूंक दिया गया जीशान का घर

लड़की की बात सुनते ही लड़के के परिजन भड़क गये तथा उन्होंने साफ़ कर दिया कि उनका बेटा इस्लाम त्यागकर हिन्दू नहीं बनेगा. लड़की के प्रेमी ने भी अपने अब्बू-अम्मी की हाँ में हाँ मिलाई तो लड़की दंग रह गई. फिर हिंदू युवती ने ओक कटारगाम पुलिस स्टेशन में हलफनामा दायर करते हुए कहा कि वह मुस्लिम युवक से शादी करने को तैयार है लेकिन एक ही शर्त पर कि वो हिंदू बनने को तैयार हो. इसके साथ ही उसने ये भी शर्त रखी है कि उसे नॉन वेज खाना भी छोड़ना होगा औऱ उसे कभी भी खाना बनाने के लिए दबाव नहीं डालेगा.

जीत से पहले खौफ फैला समाजवादी समर्थकों का.. किसी और को वोट की बात करने वाले का किया ये हाल

लड़की ने हलफनामे में एक एग्रीमेंट भी जमा किया है जिसमें उसने ये सारी शर्तें लिखी हैं. एग्रीमेंट में लिखा गया है कि लड़के को अपने पेरेंट्स की उपस्थिति में हिंदू धर्म को अपनाना होगा. ये भी वादा लिया गया कि वह बाद में फिर कभी मुस्लिम नहीं बनेगा. उसने कहा कि वह अपने पेरेंट्स को इस बात के लिए मना चुकी है और वह लड़के से भी यही उम्मीद करती है. लड़की ने कहा कि अब वह उस मुस्लिम लड़के से शादी के के लिए तभी राजी हो सकती है जब उसके इन शर्तों को मान लिया जाए.

लड़की ने कहा कि अगर उसकी शर्तों को माना नहीं जाता है तो वह शादी नहीं करेगी. पुलिस ने बताया कि उन्होंने लड़की के द्वारा तैयार किया गया एफिडेविट बरामद कर लिया है. बता दें कि जब लड़की ने मुस्लिम युवक से एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करने को कहा तो उसने हस्ताक्षर नहीं किये तथा वह अपने परिजनों के साथ चला गया.

बुर्का बैन की आंशिक शुरुआत भारत के उसी कोने से जहाँ के लोगों को बिंदास बोल में सतर्क किया था सुरेश चव्हाणके ने

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post