ईसाई बनाने वाली मीटिंग में पहुंच गया बजरंग दल.. फिर पहुंच गई पुलिस.. UP में धर्मान्तरण अब आसान नहीं

हिंदुत्व पर हो रहे चौतरफा हमलों के बीच धर्मान्तरण की मशीन ईसाई मिशनरियों ने उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में भी अपना जाल फैला रखा था जहाँ के चक्कर की मिलक में एक घर में चल रही चंगाई सभा में एक साजिश के तहत हिंदुओं के धर्म परिवर्तन की कोशिश की जा रही थी. इसी दौरान किसी ने बजरंग दल  को इस मामले सूचना दे दी. सूचना मिलते ही बजरंग दल तथा हिन्दू जागरण मंच के  कार्यकर्ता पहुँच गये तथा हंगामा शुरू कर दिया. जानकारी मिलने पर पुलिस भी पहुँच गई तथा ईसाई की कथित प्रार्थना सभा रुकवा दी, जिसमें आड़ में धर्म परिवर्तन की कोशिश की जा रही थी.

सुदर्शन न्यूज़ की खबर तथा सोशल मीडिया की एकता के बाद ऋचा भारती मामले में बड़ी कार्यवाही.. एक्शन में आई रघुबर सरकार

इसके बाद पुलिस ने कार्यवाई करते हुए 4 धर्मान्तरणकारियों को गिरफ्तार कर लिया तथा उन्हें थाने ले आई, जिसमें 2 युवतियां हैं. इस संबंध में सिविल लाइन थाने में तहरीर दी गई है तथा धर्मान्तरणकारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाई की मांग की है. खबर के मुताबिक़, मुरादाबाद के चक्कर की मिलकर में जगदीश नामक व्यक्ति के घर पर प्रार्थना सभा रखी गई थी, जिसमें देहरादून निवासी ईसाई धर्म के चार पदाधिकारी ये चारों लोग चंगाई सभा कर रहे थे, जिसमें करीब 50 लोग मौजूद थे.

संभल के बलिदानियों का अंतिम संस्कार थोडा रुक कर करना साहब.. बॉर्डर स्कीम लगाई है आपने, बलिदानियों के घर वालों को आने में देर लगेगी

इस दौरान ही किसी ने हिंदू जागरण मंच और बजरंग दल के पदाधिकारियों को सूचना दे दी कि वहां हिंदुओं को धर्म परिवर्तन के लिए लालच दिया जा रहा है. खुद जगदीश के ही भतीजे चंदन, तेजपाल और परिवार के ही विनोद सैनी, बलवीर सैनी ने प्रार्थना सभा का विरोध जताया. सूचना पर दोनों संगठनों के पदाधिकारी पहुंचे तो पुलिस को भी सूचना दे दी गई।.जबरदस्त हंगामे के बीच पुलिस ने वहां प्रार्थना सभा करने आए लोगों को बाहर निकाला और थाने ले आई.

ईसाई बनाने वाली मीटिंग में पहुंच गया बजरंग दल.. फिर पहुंच गई पुलिस.. UP में धर्मान्तरण अब आसान नहीं

बजरंग दल के महानगर संयोजक वरुण शर्मा और हिंदू जागरण मंच के पदाधिकारी कपिल कुमार ने बताया कि इस तरह से पहले भी शहर में कई बार हो चुका है. नागफनी में भी चार परिवारों का धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश की गई थी. उन्होंने पुलिस से मांग करते हुए कहा कि शहर में इस तरह की प्रार्थना सभाओं को शहर में किसी सार्वजनिक स्थल या हिंदुओं के घरों पर होने से रोका जाए, जिससे कि ईसाई धर्म के लोग हिंदुओं को बरगलाकर उनका धर्म परिवर्तन न करवा सकें.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

राष्ट्रवाद पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW