एक दूसरे के रक्त के प्यासे हुए कश्मीरी आतंकी. हिजबुल ने अल कायदा आतंकी मूसा के खिलाफ छेड़ा जिहाद


जहाँ पॉवर और पैसा आता है वहाँ टकराहट आती है। आतंकियों ने एक दूसरे पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। एक नया वीडियो वायरल हो रहा है जिसमे कुछ नकाब पोस आतंकी हाथो में हथियार लिए आतंकवादी मुसा को गद्दार करार दिया है।

सोशल मीडिया पर कुछ भी आग की तरह फैलता है। सोशल मीडिया पर एक बार फिर आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का एक वीडियो वायरल हुआ है। एक मिनट 42 सेकेंड के वीडियो में पांच हथियारों से लैस आतंकी दिख रहे हैं।

उनके हाथों में रॉकेट लांचर सहित अन्य आटोमैटिक हथियार है। वीडियो में हिज्ब के पूर्व आतंकी जाकिर मूसा को गद्दार करार देते हुए लोगों से उसका साथ न देने की अपील की गई है।
जारी विडिओ में एक आतंकी कह रहा है की भारत सरकार लगातार आतंकियों का खात्मा कर रही है। भारत सरकार को इनफार्मेशन मूसा दे रहा है जो की भारत सरकार से बहुतेर पैसे लेकर बैठा है। आतंकी ने ये भी कहा की पिछले तीन महीनों के दौरान काफी भारी संख्या में आतंकी मारे जा चुके हैं और इतनी भारी संख्या में आतंकियों का मारा जाना इससे पहले कभी भी नहीं देखने को मिला है।

उसने जोर देते हुए आतंकवादी मूसा को इसका जिम्मेवार बताया। आतंकी कह रहा है कि घाटी में बड़े-बड़े कमांडरों को मरवाने के एवज में मूसा ने भारतीय सरकार से मोटी पैसे लिए हैं।पहले उसने तालिबान-ए-कश्मीर बनाया और अब वो अंसार गज्वातुल हिन्द का सरगना बना बैठा है। इस वीडियो में आतंकी ने अपील की है की गद्दार का साथ न दो, ऐसे गद्दारों का कश्मीर में कोई जगह नहीं।
गौरतलब हो की भारत के सेना को मिशन आल आउट के तहत आतंकियों को मरने की छूट मिल रखी है। जिसके बाद सेना आतंकियों का सफाया करने में लगी हुई है। सेना के इस सफाये से आतंकियों में भय व्यापत है। जिसके बाद बौखलाहट में आतंकी परेशान है। 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share