खुले में नमाज का आदेश दो नहीं तो #RSS को शाखाएं भी नहीं लगाने देंगे हम- #Congress


गुरुग्राम में सरकारी जमीन तथा खुले में नमाज पढ़े जाने का हिंदूवादी संगठनों दवारा विरोध करने के बाद खड़ा हुआ विवाद तथा राजनैतिक तूफ़ान थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है. इस विवाद में कांग्रेस पार्टी भी कूद पडी है तथा उसने खुले में नमाज का समर्थन किया है. कांग्रेस ने कहा है कि या तो खुले में नमाज पढ़ने दी जाये नहीं तो वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखाएं भी नहीं लगने देंगे. ये बात हरियाणा से कांग्रेस पार्टी के विधायक तथा पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा ने कही है. कुलदीप शर्मा के साथ पूर्व मंत्री आफताब अहमद भी मौजोद्द थे.

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले गुरुग्राम में हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने सेक्टर ५३ में नमाज पढ़ने से रोक दिया था. इन हिन्दू कार्यकर्ताओं का कहना था कि इस समय खुले में नमाज पढने का ट्रेंड चल रहा है तथा ये सब एक साजिश के तहत हो रहा है. इन हिन्दू कार्यकर्ताओं का कहना था कि मजहबी जिहादी कट्टरपंथियों  अब लव जिहाद के बाद लैंड जिहाद पर काम कर रहे हैं, जिसके तहत साजिशन पहले खुले स्थानों पर नमाज पढी जाती है फिर वहां पर कोई मजार या मस्जिद बना दी जाती है व् उस जगह को कब्जा लिया जाता है.

गुरुग्राम की इस घटना के बाद राज्य के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर तथा राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने भी खुले में नमाज को गलत बताया था तथा कहा था कि नमाज मस्जिद या ईदगाह स्थल में ही पढी जानी चाहिए. मुख्यमंत्री के इस बयान पर कांग्रेस पार्टी बिफर गयी है. कांग्रेस विधायक कुलदीप शर्मा ने कहा है कि अगर खुले में नमाज नहीं पढ़ने दी जायेगी तो कांग्रेस पार्टी आरएसएस की शाखाओं को भी नहीं लगने देगी. पूर्व मंत्री आफताब अहमद ने कहा कि मुख्यमंत्री खट्टर ने मुस्लिम समाज की भावनाओं को आहत किया है इसलिए अब कांग्रेस पार्टी संघ की शखाओं का विरोध करेगी.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share