अपहरण कर नाबालिग से 8 दरिंदों ने किया सामूहिक बलात्कार,,,, पीड़िता ने की फांसी लगाकर आत्महत्या.. आखिर कब बदलेगी स्त्रियों को लेकर समाज की सोच?

समझ नहीं आ रहा है कि देश किस दिशा में जा रहा है. देश के युवाओं को हिन्दुस्तान का भविष्य कहा जाता है, कहा जाता है कि हिंदुस्तान युवाओं का देश है तथा ये युवा देश को भविष्य में उन्नति की प्रगति की नई ऊँचाइयों पर ले जायेंगे लेकिन देश की ये उम्मीदें उस समय धता होती हुई नजर नजर आती हैं जब आये दिन देश के किसी न किसी कोने से महिलाओं के साथ अत्याचार, बलात्कार आदि की खबरें समें आती हैं. बलात्कार के मामले को लेकर देश में कड़ी सजा का प्रावधान होने के बाद भी हवसी दरिंदे अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं तथा मासूमों की इज्जत को अपनी हवस की भूख के पैरों तले रौंद रहे हैं. बलात्कार जैसे जघन्य अपराध को रोकने के लिए जितना जरूरी कड़ा कानून है उससे ज्यादा जरूरी अपने बच्चों को दिए जाने वाले संस्कार हैं. ये अभिभावकों की भी जिम्मेदारी बनती है कि वह अपने बच्चों पर नजर रखें कि वह किस दिशा में जा रहा है, क्या कर रहा है.

अब हरियाणा से सामूहिक बलात्कार का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आपकी रूह काँप उठेगी. हरियाणा के मेवात में रविवार रात आठ लोगों ने 16 साल की लड़की के साथ बेरहमी से बलात्कार किया, जिसके बाद पीडिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. बलात्कार के बाद मौत को गले लगाने वाली 12वीं क्लास की छात्रा सोहना के करीब नूह के खोर बोसाई गांव में रहती थी. रविवार को करीब 12 बजे आरोपियों ने लड़की का अपहरण कर लिया और सुनसान स्थान पर ले जाकर उसके साथ बलात्कर किया. सोमवार को लड़की के एक चचेरे भाई ने उसे घर के बहार बदहवाश अवस्था में पाया.

बताया गया है कि घटना वाले दिन उसके माता-पिता रिश्तेदार के यहां गए हुए थे, वह घर पर अकेली थी. भाई ने पीडि़ता के माता-पिता को फोन किया. बाद में लड़की के परिवार वालों ने पुलिस को शिकायत दर्ज कराई. आरोपी लड़की के पिता पर केस खत्म करने के लिए दबाव बना रहे थे जिसकी वजह से उनके बीच झगड़ा हुआ. बाद में जब 3 बजे के करीब लड़की के परिजन घर लौटे तो लड़की पंखे से फंदे से लटक रही थी. जानकारी मिली है कि जब पीडि़ता घर पर अकेली थी तो उसने आत्महत्या कर ली. पीडि़ता के पिता ने कहा, ‘हम उसे घर पर अकेली छोडऩे के लिए खुद को दोषी समझ रहे हैं. हम चाहते हैं कि आरोपी को मौत की सजा मिले.’ पुलिस ने बताया कि सभी आठों आरोपियों की पहचान हो गई है और उनके खिलाफ रेप, अपहरण और आत्महत्या के लिए उकसाने एवं पोक्सो ऐक्ट की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. लेकिन किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है.

Share This Post

Leave a Reply