“55 साल का हूँ लेकिन अभी जवान हूं, मेरे हिसाब से तुम बूढ़ी हो”.. ये बोलकर बीबी को तलाक दिया मुनफैद ने और रचा लिया बेटी की उम्र जैसी लडकी से निकाह

अख्तरी काफी समय से अपने शौहर मुनफैद की अनेक प्रताड़नाओं को सहन कर रही थी लेकिन वो नहीं जानती थी कि इस सबके बाद भी मुनफैद उसको बेघर कर देगा. फिर वो दिन आया जब अख्तरी पूरी तरह से सड़क पर आ गयी क्योंकि मुनफैद ने उसको तीन तलाक दे दिया. मुनफैद ने अपनी पत्नी अख्तरी से कह दिया कि मैं 55 साल का होने के बाद भी जवान हूँ लेकिन तुम अब मेरे लिए बूढ़ी हो चुकी हो. अब तुम मेरे किसी काम की नहीं हो क्योंकि मुझे कोई जवान लड़की चाहिए. फिर उसने अपनी बेटी की उम्र की लडकी से निकाह किया तथा अख्तरी को तीन तलाक बोलकर घर से निकाल दिया.

मामला हरियाणा के यमुनानगर का है. आश्चर्य की बात ये है कि जब पीड़िता थाने गयी तो आसपास के लोगों ने उसे समझौते का भरोसा दिया तथा शिकायत वापस करा ली. लेकिन घर आकार पीड़िता को धमकाया तथा मुनफैद को उसकी दुसरी पत्नी के साथ रहने की इजाजत दे दी. मिली जानकारी के मुताबिक, हरियाणा के यामुनागारा के छछरौली कस्बे  में 50 साल की अख्तरी को उसके पति मुनफैद ने तीन बार तलाक बोलकर तलाक दे दिया. आरोप है कि अख्तरी का पति अपने मामा की जवान बेटी को लाकर घर में रख रहा था. जब घर पर इसका विरोध हुआ तो उसने मामा की 30 साल की बेटी के साथ निकाह कर लिया और पहली पत्नी अख्तरी को तीन तलाक दे दिया.

पीड़िता अख्तरी ने बताया कि उसके पति अपने मामा की लड़की को लाकर घर पर ही रह रहा था. जब उसने इसका विरोध किया तो मुनफैद ने उसकी जमकर पिटाई कर दी. इसके बाद मुनफैद ने उसे तलाक दे दिया. अख्तरी की मानें तो उसका सब कुछ खत्म हो गया है क्योंकि इस उम्र में वह किसी ओर से निकाह भी नहीं कर सकती. बता दें कि, मुनफैद और अख्तरी के चार बच्चे हैं, जो शादीशुदा हैं. अख्तरी की बहुएं भी खुद बच्चों की मां हैं लेकिन मुनफैद ने इस सबकी परवाह किये बिना अख्तरी को तीन तलाक देकर घर से बाहर निकाल दिया है.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share