सरकार की जमीन को कब्जा कर के बैठे मज़हबी उन्मादियों ने हमला बोला है हमारे रक्षक पुलिस वालों पर…. अंसारी जी बताएं कौन डरा है ?

यूपी के आजमगढ़ में म‌नबढ़ों के हौसले बुलंद हैं। यहां पर म‌नबढ़ों ने गांव में पहुंची पुलिस टीम पर हमला कर दिया। पुलिस टीम को मौके से जान बचाकर भागना

पड़ा।
आपको बता दे कि आजमगढ़ जिले के एक गांव में सरकारी जमीन पर हुए अवैध कब्जे को हटवाने गई पुलिस पर मनबढ़ों ने हमला बोल दिया। हमलावरों की

संख्या अधिक होने से पुलिस वहां से हटना पड़ा। इस संबंध में लेखपाल ने छह लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है।

सीओ सगड़ी सुधाकर सिंह ने बताया कि बिलरियागंज थाना क्षेत्र के छिही गांव निवासी शकील अब्बास, रुसिनजोहरा, शबाना, रेशमा, चांदतारा, गुसनवा ने गांव की

सरकारी जमीन पर कब्जा कर अवैध तरीके से मकान बनवा लिया है। न्यायालय ने अतिक्रमण हटाने के लिए आदेश दिया है।
कोर्ट के आदेश के अनुपालन के लिए छिही गांव के लेखपाल अमित कुमार पांडेय बिलरियागंज थाने की पुलिस के साथ छिही गांव पहुंचे।

जैसे ही कब्जा हटाने की

प्रक्रिया शुरू हुई कि शकील अब्बास सहित अन्य लोगों ने पुलिस पर ईंट पत्थर और लाठी-डंडे से हमला बोल दिया।
हमलावरों में महिलाओं की संख्या अधिक होने और पुलिस दल में महिला सिपाहियों के न होने से पुलिस और तहसील के अधिकारी, कर्मचारी वहां से भाग खड़े

हुए।

सीओ ने बताया कि लेखपाल अमित कुमार पांडेय की तहरीर पर शकील अब्बास सहित छह लोगों को विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। पुलिस आरोपियों की तलाश

में जुटी हुई है।

Share This Post