डोकलाम में सिर्फ चीन के ही नहीं भारत की भी फ़ौज मौजूद है… निश्चित रहे देश- सेनापति, भारत

डोकलाम सीमा विवाद पर चीन आर्मी को अन्तः हार माननी पड़ी थी. जिसके बाद चीन कई प्रयास कर चूका है कि भारत से फिर से दोस्ती कर सके।. लेकिन साथ ही ऐसे कदम भी उठा रहा है जो भारत के विरुद्ध है। जैसे की दुर्दांत आतंकी मसूद अज़हर जिसकी पाकिस्तान पैरोकारी करता है उस आतंकी को चीन अपनी वीटो पावर का इस्तेमाल कर यूनिवर्सल आतंकी घोषित होने से रोक रहा है।

जिसके बाद चीन पर भरोसा करना भारत के लिए मुश्किल है। इसी बीच आर्मी चीफ बिपिन रावत का बयान आया है कि डोकलाम से सेना अभी हटाई नहीं गयी है। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि भारत और चीन दोनों के सैनिक डोकलाम में मौजूद हैं लेकिन वे आमने-सामने नहीं हैं। जनरल रावत ने कहा कि डोकलाम में दोनों देशों ने अपने सैनिकों को हटा लिया था।
उन्होंने कहा, ”इस शर्त पर सैनिकों को हटाया गया कि दोनों पक्ष अपने सैनिकों को हटाएंगे ताकि आमने-सामने नहीं रहें। इसलिए, सैनिकों को हटा लिया गया है।” उन्होंने कहा, ”पीएलए (पीपुल्स लिबरेशन आर्मी) डोकलाम में अब भी है, लेकिन वे हमसे उचित दूरी पर हैं और हम आमने-सामने नहीं हैं।” वह यहां एक समारोह में मराठा लाइट इनफैन्ट्री की 23 वीं और 24 वीं बटालियन को सम्मानित करने के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे।
Share This Post

Leave a Reply