Breaking News:

भारत में चीन से बड़ा खतरा हैं अवैध बांग्लादेशी. नोएडा की महागुन सोसाइटी से मिल चुकी चेतावनी…

जिस भारत की मोदी सरकार ने भारत-बांग्लादेश सीमा पर रह रहे 51,000 लोगों को आज़ादी दिलाने में मदद की, 41 साल पुराने सीमा विवाद सुलझाने में पहल की ताकि बांग्लादेशी एन्क्लेव में रह रहे तमाम लोगों को पहचान मिल पाए, उनके अधिकार मिल पाए, रोज़गार मिल पाए, और वे सभी सुख सुविधाओं के साथ अपना जीवन व्यतीत कर सके. साथ ही साथ बांग्लादेश को 5 अरब डॉलर का ऋण देकर उनकी मदद भी की. आज वही बांग्लादेशी भारत की सुरक्षा के लिए खतरा बनते जा रहे हैं.

हाल ही में नॉएडा के सेक्टर 78 में स्तिथ महागुन सोसाइटी के आसपास झुगियों और बस्तियों में रह रहे बांग्लादेशियों ने सेकड़ों की तादात में सोसाइटी पर हमला किया, हमले में उन्होंने सोसाइटी में तोड़फोड़ के साथ वहां के लोगो के साथ मार पीट भी की. इस सोसाइटी ने कई बांग्लादेशियों को रोज़गार दिया है, ताकि वे कमाकर अपना पेट भर सके लकिन जब एक बांग्लादेशी मेड जिसका नाम जोहरा है उसे फ्लैट के मालिक ने चोरी करने पर फटकार लगाई तो उस महिला ने अपने सभी बांग्लादेशी साथियों के साथ मिलकर सोसाइटी के लोगों पर हमला कर दिया.

बता दें कि यह बांग्लादेशी में भारत में अवैध रूप से रह रहे है. इस दिलदहला देने वाली घटना के बाद फिर एक बार अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियो से खतरा का मुद्दा सुर्खियों में आ गया है. राज्य सभा में हुई बैठक में गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने इस मुद्दे पर बात करते हुए भारत में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों को देश के लिए खतरा बताया है. उन्होंने अपनी बात रखते हुए कहा कि बांग्लादेशी घुसपेठियों का इस्तेमाल इस्लामिक आतंकी संघठन ISIS या फिर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी भारत के खिलाफ कर सकती हैं.

अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों द्वारा हुए कई बड़े अपराध सामने आते रहते हैं जैसे मानव तस्करी, चोरिया, नशे की तस्करी और अब सोसाइटी में सेकड़ो की तादात में हमला करना। ऐसे में इन पर ध्यान देना बहुत ज़रूरी हो गया है क्योंकि सावधानी इलाज़ से बेहतर है. 

Share This Post