महताब और रागिब को दुनिया मजदूर समझती थी..लेकिन वो कर रहे थे जासूसी वो भी सेना की…जोमेटो डिलिवरी बॉय विवाद के बाद अब फैक्ट्री में जासूस मजदूर

मुज़फ्फरनगर/उत्तर प्रदेश -मुज़फ्फरनगर जनपद के नाम किसी ना किसी बात को लेकर हमेशा सुर्खियों में बना रहता है ।एक बार फिर मुज़फ्फरनगर के गाव शेरनगर निवासी दो युवकों महताब व् ग़ालिब ने जनपद को शर्मसार करने का काम किया ।नौकरी के लिए हिसार गए दो गद्दार युवकों को मिलिट्री इंटेलिजेन्स ने हिरासत में लिया है ।जिनपर सेना की गतिविधियों को शोशल मीडिया के जरिये पाकिस्तान भेजने का आरोप है ।दोनों युवकों को मिल्ट्री क्षेत्र में मेस बिल्डिंग निर्माण में लगी सिविल कंट्रक्शन कम्पनी में लेबर के रूप में काम करते हुए हिरासत में लिया गया है ।

पुलिस ने इनके पास से मोबाइल वीडियो क्लिप व्हाट्सएप वॉइस और कुछ फोटोग्राफ्स बरामद किए है । साथ ही ये भी जाँच गंभीरता से की जा रही की इनके साथ के कितने ऐसे लोग हैं जो इस फेक्ट्री या आस पास की फैक्ट्रीयो में काम कर रहे हैं पूछताछ में इन जासूसों ने एक अन्य साथी जो उत्तरप्रदेश के शामली का रहने वाला है का भी नाम बताया हैं , उसको भी हिरासत में ले लिया गया है,

वही दूसरी और Zomato प्रकरण अभी थमा भी नहीं था की एक और शर्मनाक हरकत सामने आ गई जिसे लेकर सोशलमिडिया पर फिर एक बार बहस तेज हो गई है, बैठे बिठाये सोशलमिडिया यूजर्स को एक  मुद्दा और मिल गया है , लोग अवार्ड वापसी गेंग से  सवाल पूछ  रहे है  की आप इन जासूसों के साथ  खड़े होंगे,या भारतीय सेना के साथ ?

रिपोर्ट-

समर ठाकुर

वेब जर्नलिस्ट /मुज़फ्फरनगर

Mob-9368004900 


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share