258 गद्दारों की लिस्ट जारी की सेना ने. बताया कि अंतिम आतंकी की मौत तक जारी रहेगा अभियान

कश्मीर में भारतीय जवान पाकिस्तान के आतंकवादियों का ख़त्मा करने के लिए पूरी तरह से कमर कस चुकी है। भारतीय सेना कश्मीर में शांति बहाल करने के लिए पूरी तरह से तैयार हो चुकी है। भारतीय सुरक्षाबलों ने कश्मीर से आतंकवाद को खत्म करने के लिए ऑपरेशन ऑल आउट चलाया है। ऑपरेशन ऑल आउट के तहत सेना ने 258 ऐसे आतंकवादियों सूची तैयार की है, जो कश्‍मीर के विभिन्‍न इलाको में लम्बे अर्से से आतंकी गतविधियों को अंजाम देते है।
सूची तैयार होने के बाद सेना ने इन आतंकियों को ढूढ़ कर उन्हें उनके आकाओं के पास पहुंचने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। आपको बता दें कि आतंकवादियों की सूची में लश्कर-ए तैयबा, हिजबुल मुजाहिदीन और अल बद्र जैसे खतरनाक आतंकवादी संगठनों से जुड़े आतंकी हैं। सेना के आतंकियों की सूची में जम्मू-कश्मीर के 13 जिलों के आतंकी शामिल हैं। इनमें 130 लोकल आतंकी हैं और 128 विदेशी हैं। सूची के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर में लश्कर-ए तैयबा के आतंकियों की संख्या- 136, हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकियों की संख्या- 95, जैश के आतंकियों की संख्या- 23 व अल बद्र के आतंकियों की संख्या- 01 है।
सेना की सूची में यह भी पता चला है कि इनमें से सबसे ज्यादा आतंकी कुपवाड़ा और सोपोर जिले के हैं। कुल 34 आतंकी कुपवाडा के हैं। इनमें से 32 आतंकी विदेशी हैं। जबकि लिस्ट में सोपोर जिले के 39 आतंकी पाए गए है। इनमें से 24 विदेशी हैं और 15 स्थानीय आतंकवादी हैं। सूची तैयार करने के साथ ही सेना और सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन ऑल आउट शुरू भी कर दिया है। इस ऑपरेशन के तहत पिछले दो दिनों में पांच आतंकियों को सेना के जवान और सुरक्षा बलों ने मार गिराया है। जबकि सेना ने बीते 28 दिनों में 45 से ज्यादा आतंकी को मार गिराया हैं। 
Share This Post