रुक नहीं रहा आईपीएल में सट्टेबाजी का दौर फिर गिरफ्त में आए 4 सट्टेबाज

उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने हाल ही में
आईपीएल मैच पर सट्टा  लगाने वाले 4
सट्टे बाजों को कानपुर के फीलखाना थाना क्षेत्र से गिरफतार किया है इन सट्टेबाजों  के पास से 20 लाख रुपये लैपटॉप मोबाइल रजिस्टर बरामद हुए है। और अभी पुलिस
आरोपियों से पूछताछ करने में लगी हुई है।

जानकारी के मुताबिक, आईपीएल के
दो मैच कानपुर में होने हैं, जिसके
सट्टा लगाए जाने की खबर एसटीएफ को मिली. इसके बाद एसटीएफ के एसएसपी अमित पाठक के
निर्देशों पर इंस्पेक्टर विनय गौतम की टीम ने किदवई नगर थाना पुलिस के साथ साकेत
नगर के सरस्वती अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 407 में
छापेमारी की.

इस छापेमारी में पुलिस ने संदीप
श्रीवास्तव और जसमीत को गिरफ्तार
किया। और उनके पास से 1.49 लाख रुपये 1 लैपटॉप 6 मोबाइल एक वॉकी और इसके अलावा एक रजिस्टर भी बरामद किया गया।

इसके बाद एसटीएफ ने किदवईनगर के एच ब्लॉक में स्थित नटराज
एनक्लेव से दीपक लांबा को पकड़ा. उसके पास से 13.70 लाख रुपये, 7 मोबाइल और
रजिस्टर बरामद किए।

गिरफ्तार
हुए सट्टेबाजों  से मिली जानकारी के आधार पर ही एसटीएफ
ने कुरसवा स्थित एक अपार्टमेंट से राजेश अग्रवाल को हिरासत में लिया और उसके पास
से लगभग 4.22 लाख रुपये 3 मोबाइल टीवी और रजिस्टर बरामद किए गए।

आपको
बता दें कि, ये
लोग इंटरनेट पर मौजुद क्रिकेट से जुड़े एप्लीकेशन और बैट डॉट नाम के साफ्टवेयर की
मदद से टीमों पर चलने वाले रेट का अंदाजा लगाते है।

इसके अलावा सट्टेबाजों  ने बताया कि उसी के जरिए ये लोगों से सट्टा  लगवाते थे।

अभी
कानपुर में हैदराबाद और गुजरात की टीमों के दो मैच होने है। और अभी तक इन टीमों पर
6 करोड़ रुपये का सट्टा  लग चुका है। वैसे आईपीएल के हर सीजन में इस
तरह की सट्टेबाजों  की बड़ी घटनाएं सामने आती रहती है।

Share This Post