सेकुलर लोगों के शहर में मज़हबी उन्माद.. दिल्ली में जहांगीर खान और मोहम्मद आलम ने मिल कर चाकुओं से गोद डाला एक पिता को जो कर रहा था बेटी से छेड़छाड़ का विरोध


सोमवार की रात देश की राजधानी दिल्ली मजहबी उन्मादियों के कहर से उस समय दहल उठी जब जहांगीर खान, मोहम्मद आलम तथा उनके अन्य साथियों ने तालिबानी अंदाज में क्रूरतम तरीके से एक पिता की चाकुओं से गोदकर ह्त्या कर दी, साथ ही उनके बेटे को गंभीर रूप से घायल कर दिया. मृतक की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने बेटी से छेड़छाड़ का विरोध किया था, इससे उन्मादी भड़क उठे तथा लड़की के पिता तथा उसके भाई पर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार किये. हमले में जहाँ लड़की के पिता ने दम तोड़ दिया तो वहीं भाई गंभीर रूप से घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती है.

कश्मीर में सेना पर पत्थरों की बौछार.. बुरी तरह घायल हुए राष्ट्र के 50 रक्षक.. तथाकथित सेकुलरिज़्म वाले पत्थरबाजों के साथखड़े

जिस क्रूरतम अंदाज में सरेआम सड़क पर उन्मादियों ने पिता-पुत्र पर चाकुओं से वार किये, उससे दिल्ली कांप उठी है. यहां सवाल खड़ा होता है कि आखिर वह कौन सी सोच है जो इस कदर लोगों के खून की प्यासी होती है? वो कौन सी सोच है जो कभी धार्मिक/मजहबी स्थलों में बम धमाके कर निर्दोष लोगों की जान ले लेती है तो कभी सार्वजनिक जगहों गाड़ियों से कुचलकर लोगों की हत्याएं कर देती है? आखिर ये सोच आती कहाँ से है, जिसके लिए इंसानी जान कोई मायने नहीं रखती? इंसानियत की दुश्मन इसी सोच ने दिल्ली को कंपा के रख दिया है.

टीपू सुल्तान के जयकारे लगाती कांग्रेस ने अब राजस्थान में वीर सावरकर के खिलाफ लिखवाया ये सब.. आक्रोशित हुआ हिन्दू समाज

मामला दिल्ली के मोती नगर के बसई दारापुर इलाके का है जहाँ छेड़छाड़ का विरोध करने पर लड़की के पिता पर बेरहमी से हमला किया गया जिससे उसकी मौत हो गई. लड़की के भाई पर भी जानलेवा हमला किया गया. भाई अब मौत से जूझ रहा है. फिलहाल इस मामले में पड़ोस में रहने वाले चार हत्यारों को पुलिस ने पकड़ा है, जिसमें से दो नाबालिग हैं. मृतक का नाम ध्रुव राज त्यागी है तथा गंभीर रूप से घायल उनके बेटे का नाम अनमोल त्यागी है.

1 मुसलमान ने फेसबुक पर सिर्फ इतना लिखा था – “आज हँस लो, कल रोना पड़ेगा” .. उसके बाद जो हुआ वो किसी ने सोचा भी न था

आपको बता दें कि की सोमवार की रात ध्रुव त्यागी अपनी बेटी की तबियत खराब होने पर हॉस्पिटल से दिखाकर अपने घर के पास पहुंचे तो पड़ोस में रहने वाले कुछ लड़कों ने राजू त्यागी की बेटी से छेड़छाड़ की तथा फब्तियां कसी. घर आकर ध्रुव त्यागी दुबारा उन लड़कों को समझने गए तो उन लड़कों ने पत्थर और चाकुओं से ताबड़तोड़ हमला कर दिया. अनमोल और उसकी बहन जब मौके पर गए और पिता को बचाने की कोशिश की तो उन्मादियों ने अनमोल को भी चाकुओं से गोद डाला.

एक ऐसा लड़ाकू विमान जिसे सिर्फ भारत को बेचेगा अमेरिका.. विदेश नीति की बड़ी सफलता

उन्मादी लगातार पिता-पुत्रों पर चाकुओं से हमला करते रहे. इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई. घायल अवस्था में ध्रुव त्यागी तथा अनमोल को अस्पताल ले जाया गया, जहाँ ध्रुव त्यागी ने दम तोड़ दिया तथा अनमोल की हालात नाजुक बनी हुई है. वारदात के बाद इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है तथा इसे देखते हुए वहां पुलिस बल की तैनाती की गई है. पुलिस ने आईपीसी 302,506 और 509 के तहत केस दर्ज कर पड़ोसी 20 साल के मोहम्मद आलम और 45 साल के जहांगीर खान को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं दो नाबालिगों को भी पुलिस ने पकड़ा है.

मॉर्डन लड़कीं जिद कर रही थी पति से शिखा कटवाने की.. पति बोला – “तलाक मंजूर, पर संस्कार नही त्याग सकता”

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...