Breaking News:

अब सेना ‘प्लास्टिक बुलेट’ से देगी पत्थरबाजों को जवाब….

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में आए दिन आतंकियों को बचाने के लिए पत्थरबाज सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी करते हैं। लेकिन अब इन पत्थरबाजों से निपटने के लिए सुरक्षाबलों को नया तरीका मिल गया है। केंद्र सरकार ने इन पत्थरबाजों से निपटने के लिए सुरक्षाबलों को प्लास्टिक बुलेट का इस्तेमाल करने को कहा है।

इसके साथ ही मंत्रालय ने सुरक्षाबलों को आदेश दिये हैं कि अब पैलेट गन का इस्तेमाल आखिरी विकल्प के तौर उपयोग करें। जानकारी के मुताबिक, केंद्र सरकार की ओर से 1000 प्लास्टिक बुलेट कश्मीर घाटी में भेजे जा चुके हैं। इन प्लास्टिक की गोलियों से घाव नहीं होता और इन्हें इंसास रायफल से भी दागा जा सकता है।

बता दें कि सुरक्षाबलों को कश्मीर में इन दिनों अक्सर हिंसक प्रदर्शनों और पत्थरबाजी का सामना करना पड़ता है। खासकर आतंकवादियों से मुठभेड़ के दौरान पत्थरबाज सेना पर पत्थरबाजी करते हुए और उनके काम में बाधा पहुंचाते हैं। पत्थराबाजों का मुकाबला करने के लिए सुरक्षाकर्मी पावा शेल्स और पेलेट गन का इस्तेमाल करते हैं।

बता दें कि पिछले हफ्ते ही जम्मू कश्मीर में पैलेट गन के इस्तेमाल पर रोक की मांग वाली याचिका पर सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि वो उग्र प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए जल्द ही एक सीक्रेट वेपन का इस्तेमाल शुरू करने वाली है। इसे पैलेट गन के पहले इस्तेमाल में लाया जाएगा।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW