Breaking News:

पत्थरबाज को जीप से बांधने वाले मेजर गोगोई के बारे में आ रही है ऐसी खबर कि हिल गया राष्ट्र.. प्रथम द्रष्टया लग रही एक बहुत बड़ी साजिश

मेजर लीतुल नितिन गोगोई.. भारतीय सेना जे जांबाज जवान मेजर नितिन को आज देश का बच्चा बच्चा जानता है. मेजर गोगोई उस समय सुर्ख़ियों में आये थे जब उन्होंने सेना पर पत्थर फेंकने वाले एक कश्मीरी उन्मादी युवक को जीप पर बांधकर घुमाया था जिसका सीधा संकेत था कि जो भी व्यक्ति आतंकियों का समर्थन करेगा तथा सेना पर पत्थर फेंकेगा तो उसके लिए अब स्वेट कबूतर नहीं उड़ाए जायेंगे बल्कि उसके खिलाफ कार्यवाही होगी. इस घटना के बाद मेजर गोगोई के खिलाफ तमाम देशविरोधी ताकतें तथा तथाकतित सेक्यूलरवाद से ग्रसित राजनेता भी उठ खड़ी हो गये थे लेकिन देश की राष्ट्रवादी जनता एक सुर में मेजर गोगोई के समर्थन में आ गयी थी..

अब भारतीय सेना के उसी जांबाज मेजर के बारे एक ऐसी खबर आ रही हियो जिससे पूरा राष्ट्र सन्न रह गया है. जानकारी मिली है कि मेजर गोगोई को जम्मू कश्मीर राज्य पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. सूत्रों के हवाले से सूचना मिली है मेजर गोगोई को श्रीनगर के ममता होटल में एक युवती के साथ पकड़ा गया है जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है तथा उनसे पूंछताछ की जा रही है. प्रथम द्रष्टया मेजर गोगोई के खिलाफ ये एक बहुत बड़ी साजिश लग रही है क्योंकि जब से मेजर गोगोई ने कश्मीरी आक्रान्ता पत्थरबाज को जीप पर बंधकर घुमाया था, उसी दिन से मेजर मोगोई न सिर्फ आतंकी बल्कि तथाकथित सेक्यूलरबाद से ग्रसित राजनेताओं के निशाने पर भी थे.

हालाँकि इस खबर की अभी तक कोई पुष्टि नहीं हो पायी है लेकिन सूत्रों का कहना है कि मेजर गोगोई खान्यार पुलिस की हिरासत में है. पुलिस न खबर से इनकार कर रही है तथा इसको स्वीकार कर रही है. ममता होटल के स्टाफ का भी कहना है कि मेजर गोगोई एक युवती के साथ होटल में आये थे. इस मामले में ये भी आशंका जताई जा रही है कि मेजर गोगोई को फंसाने के लिए ये एक साजिश रची गयी है तथा होटल मालिक की भी इस साजिश में संलिप्तता है. पूरा देश जानता है कि अतीत में इससे पहले कई साधू-संतों तथा अन्य कई सम्माननीय हस्तियों पर भी ऐसे अनर्गल आरोप लगाये गये हैं, जो बाद में गलत साबित हुए हैं. इस मामले में प्रथम द्रष्टया यही आशंका है कि चूँकि मेजर गोगोई जिहादी उन्मादियों के लिए खौफ का दूसरा नाम बन चुके थे इसलिए एक षड्यंत्र के तहत उनके चारित्रिक हनन का प्रयास किया जा रहा है. इन्तजार पुलिस के जवाब का है जो इस मामले पर चुप्पी सधे हुए है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW