Breaking News:

370 पर नीतीश कुमार के विरोध के बाद उनकी पार्टी में हावी हुए कट्टरपंथी.. JDU विधायक शर्फुद्दीन ने नहीं दी राष्ट्रध्वज को सलामी

कथित छद्म सेक्यूलरिज्म की राजनीति के नए पुरोधा बनने की कोशिश कर रहे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जम्मू कश्मीर राज्य से धारा 370 हटाने का विरोध क्या किया, उनकी पार्टी JDU में कट्टरपंथी हावी हो गये. इधर नीतीश कुमार ने जम्मू कश्मीर राज्य से धारा 370 हटाने का विरोध किया तो उधर उनकी पार्टी के विधायक ने राष्ट्र ध्वज तिरंगे का ही अपमान कर डाला.

खबर के मुताबिक़, बिहार में शिवहर से JDU विधायक शर्फुद्दीन का ऐसा फोटो वायरल हो रहा है, जिसमें वह राष्ट्रध्वज तिरंगे का अपमान करते हुए नजर आ रहे हैं. जेडीयू विधायक शर्फुद्दीन की जो तस्वीर वायरल हो रही हैं उसमें वे तिरंगे झंडे को सलामी देते वक्त अपने गाल पर हाथ रखे हुए हैं. न चेहरे पर शिकन और न ही कोई शर्मिंदगी का भाव. अन्य अधिकारी, नेता और कर्मी जहां झंडे को सलामी दे रहे हैं, उसी बीच में वे बिल्कुल ढिठाई से ऐसे गाल पर हाथ रखे हुए हैं, जैसे वे कह रहे हों कि हम तिरंगे झंडे से कोई मतलब ही नहीं.

ये तस्वीर स्वतंत्रता दिवस के मौके पर शिवहर जिला कार्यालय में तिरंगा फहराए जाने के दौरान की है. विधायक शर्फुद्दीन ने झंडे को सलामी देने की बजाए अपने हाथों को गाल पर रख रखा हुआ था. झंडारोहण का कार्यक्रम शुरू होते हीं सभी ने राष्ट्रध्वज को सलामी दी. विधायक शर्फुद्दीन भी मंच पर मौजूद थे और उनके चारों ओर पुलिस-प्रशासन के अधिकारी और कर्मी राष्ट्रध्वज को सलामी दे रहे थे. लेकिन, JDU विधायक अपना हाथ को गाल पर रखे हुए थे. तस्वीर वायरल होने के बाद लोग सवाल पूछ रहे हैं कि संविधान की शपथ लेने वाले विधायक शर्फुद्दीन को तिरंगे की सलामी लेने में क्यों संकोच हुआ ? क्या उनके लिए तिरंगे को सलामी देना भी मजहबी रूप से हराम हो गया है ?

Share This Post