तालिबानी अंदाज भारत में भी दिखने शुरू… मोहम्मद मोमिन की खिलाफ उबल पड़ी रांची जिसने अपहरण किया एक हिन्दू महिला का मुसलमान बनाने के लिए

ये सत्य है कि हम चाहे निम्नवर्गीय परिवार से हों, माध्यम वर्गीय परिवार से हों या उच्चवर्गीय परिवार से हों लेकिन अगर हम अपने बच्चों को को सुसंस्कार नहीं ददे सके, अगर हम अपने बच्चों को सही और गलत का भेद नहीं बता सके, अगर हम अपने बच्चों को वर्तमान की जिहादी साजिश से सावधान नहीं कर सके तो निश्चित मानिए कि इसका परिणाम आपके लिए बेहद ही भयावह होने वाला है. बिल्कुल यही तो हुआ है झारखंड की राजधानी रांची में जहाँ एक हिन्दू युवती लव जिहाद के चंगुल में फंस गयी.

खबर के मुताबिक़ लव जिहादी मोहम्मद मोमिन ने चाकू की नोंक पर तालिबानी अंदाज में हिन्दू युवती का अपहरण कर लिया. सुखदेवनगर थाना क्षेत्र के हरमू के समीप रहनेवाली एक युवती की मां ने 25 अगस्त को बीआइटी ओपी क्षेत्र के केदल गांव निवासी मो मोसिन पर अपनी बेटी का अपहरण किये जाने की प्राथमिकी दर्ज करायी थी.  प्राथमिकी में उसने धर्म परिवर्तन कराने की भी आशंका जतायी थी. बाद में सुखदेवनगर पुलिस ने युवती को बरामद कर युवक मोसिन को गिरफ्तार कर लिया था. युवती का कोर्ट में 164 का बयान दर्ज कराया गया़. युवती ने अदालत में बयान दिया कि वह बालिग है और उसी युवक के साथ रहना चाहती है़.   युवती के घर वालों का आरोप है कि नाबालिग पर दबाव बना कर उससे बयान दिलाया गया है़,   जबकि इस संबंध में सुखदेवनगर थाना प्रभारी नवल किशाेर सिंह ने बताया कि युवती 22 वर्ष की है़ तथा उसका बयान खारिज नहीं किया जा सकता.

मामले में मोड़ तब आ गया जब पीड़िता ने मीडिया को फोन कर जानकारी दी है कि मो मोसिन ने जबरन उसका धर्म परिवर्तन कराया़ उसे प्रतिबंधित मांस भी खिलाया गया. यह भी कहा कि उसकी मां और भाई को मो माेसिन ने जान से मारने की धमकी भी दी है. युवती के इस बयान के सामने आने के बाद रांची उबल पड़ी तथा बड़ी संख्या में हिन्दू समुदाय सड़कों पर उतर आया तथा पुलिस से जल्द युवती की बरामदगी की मांग की. पुलिस का कहना है कि युवती ने कोर्ट में युवक के साथ रहने की बात कही थी लेकिन अब जबरन धर्म परिवर्तन की बात बोल रही है तो इसकी जांच की जायेगी कि आखिर किस दवाब में आकार युवती ने ये बयान दिया.

 

Share This Post

Leave a Reply