भागवा लपेट कर टंकी पर चढ़ गया और बोला शंभू लाल रैगंर रिहा नहीं हुआ तो मैं भी त्याग दूंगा प्राण

क्या लव जिहाद वाकई एक समस्या है? इस मुद्दे को जब खंगाला गया तो समझ आया कि सचमुच ऐसे विंग हैं, इन लोगों को राजनीति करने की वजहें दे रहे है.कई ऐसी घटनाएं हैं जो ये भी साफ करती है कि लव जिहाद सिर्फ राजनैतिक दलों का मुद्दा नहीं है बल्कि इसकी भयानक हकीकत भी है. केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमान चांडी ने बकायदा इस पर सदन में एक रिपोर्ट रखी.उन्होंने लव जिहाद को लेकर चिंता भी जताई.25 जून 2014 को मुख्यमंत्री चांडी ने विधानसभा में जानकारी दी थी कि 2667 युवतियां 2006 से लेकर अब तक प्रेम विवाह के बाद इस्लाम कबूल कर चुकी है.

इसके अलावा एक अन्य संस्था ने कर्नाटक में 30 हजार लड़कियों के लव जिहाद की शिकार होने की बात कही थी.श्री नारायण धर्म परिपालन समिति के महासचिव वेलापल्ली नतेसन ने कहा था कि उनकी संस्था को पाकिस्तान और यूके में भी इसी तरह की कोशिशों की कई शिकायतें परिवारों की तरफ से आई है.पॉपूलर फ्रंट ऑफ इंडिया और कैंपस फ्रंट जैसे संगठन दूसरे धर्मों की लड़कियों को फुसलाकर उनसे शादी कर इस्लाम कबूल करवाने की साजिश रचते है.केरल का इस्लामीकरण करने का प्लान बना रहे है.

दूसरे धर्मों की लड़कियों से शादी करके लव जिहाद के जरिए सांप्रदायिक सौहार्द्र को बिगाड़ रहा है. पैसे देकर लोगों को इस्लाम कबूल करवाया जा रहा है.ये भी पहला मौका था जब केरल में चर्च और विश्व हिंदू परिषद साथ में आए थे क्योंजकि मुस्लिम आबादी बढ़ाने का ये मकसद हर धर्म के लोगों के धर्म परिवर्तन के जरिए पूरा किया जा रहा है. वही राजस्थान लव-जिहाद हत्याकांड के आरोपी शंभुलाल रैगर के समर्थन में पानी की टंकी पर चढ़कर आत्महत्या करने की धमकी देने वाले एक युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

शांति और सौहार्द में बाधा डालने के लिए आरोपी अंशुल दाधीच को भारतीय दंड संहिता की धारा 151 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया और फिर एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया. पश्चिम बंगाल के एक दिहाड़ी मजदूर की हत्या करने वाले शंभुनाथ रैगर के समर्थन में 26 वर्षीय दाधीच यहां पानी की टंकी पर चढ़ गया और नारे लगाने लगा. दाधीच ने अपने नाबालिग भतीजे से इसका वीडियो भी बनवाया.भगवा ध्वज कि आड़ में आत्महत्या की धमकी दी और रैगर को रिहा करने की मांग की है.

Share This Post