Breaking News:

जेएनयू के बाद जादवपुर में फैला जहर, आखिर मामले पर चुप क्यों ममता सरकार…

कोलकता : देश में एक बार फिर राष्ट्र विरोधी लहर दौड़ पड़ी है। जेएनयू के बाद कोलकाता की जादवपुर यूनिवर्सिटी में देश विरोधी नारे लगाए जा रहे हैं। छात्रों ने कश्मीर, मणिपुर और नागालैंड की आजादी को लेकर नारे लगाए।

बता दें कि ये राष्ट्रविरोधी नारे छात्रों ने संघ के अंतरराष्ट्रीय सेमिनार में लगाए थे। उनका कहना है कि इन्हें अलग हो जाना चाहिए। छात्र नारे लगाते हुए कह रहे हैं ‘आगे से बोलो आजादी, पीछे से बोलो आजादी। कश्मीर मांगे आजादी, नागालैंड मांगे आजादी। तेज बोलो आजादी, जोतर से बोलो आजादी।’नारे लगा रहे छात्रों ने तख्तियां भी पकड़ी हुई थी।

ये नारे यूनिवर्सिटी कैम्पस में एकेडमी ऑफ फाइन आर्ट्स के बाहर लगाए गए हैं। गौरतलब है कि इससे पहले फरवरी 2016 में राजधानी दिल्ली के जेएनयू में भी देश विरोधी नारे लगाये गए थे। ऐसे में सवाल कोलकाता सरकार पर उठ रहे हैं कि कहीं इन लोगों को ममता सरकार की शह तो प्राप्त नहीं है, क्योंकि ममता दीदी तो पहले भी तुष्टिकरण की राजनीति करती आई है और वो हमेशा केंद्र की नीतियों के खिलाफ ही रहती है।

Share This Post