बागी कपिल ने पीड़ित कुमार विश्वास को लिखा भावनात्मक लेटर.. पढ़िए और जानिए ‘आप’ की अदंर की आग…

आम आदमी पार्टी के अंदर चल रहा विवाद थम नहीं रहा है। दिल्ली सरका के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा के बागी के होने के बाद उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। वहीं, कुमार विश्वास के खिलाफ आप पार्टी के छोटे स्तर के सक्रिय कार्यकर्ता मुहिम चला रहा है और बार-बार सवालों की बौछार कर रहे हैँ। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली सरकार की तरफ से शुक्रवार को रोजा इफ्तार पार्टी भी आयोजित की गई थी, लेकिन उस पार्टी में कुमार विश्वास को नहीं बुलाया गया था। 
वहीं अब कपिल मिश्रा ने कुमार विश्वास को एक भावनात्मक खत लिखा है। कपिल ने पत्र में लिखा है कि जिस तरह से आपको अरविंद केजरीवाल के साथ 24 घंटे सीएम हाउस में रहने वाले कुछ दरबारियों व विदूषकों द्वारा ट्विटर पर, सड़क पर और मीडिय में, बार-बार अपमानित किया जा रहा है वह बुहत पीड़ादायक है, उसे माफ नहीं किया जा सकता। इसके साथ कपिल ने खत में लिखा कि आपने सत्येंद्र जैन के भ्रष्टाचार की तरफ खुलकर इशारा किया। 
इसके समर्थन में कई विधायक व कार्यकर्ता साथ आ गए। 27 विधायकों ने खुलकर आपको भरोसा दिया। इससे पार्टी एवं सरकार में भ्रष्टाचार से तंग कार्यकर्ताओं को भी लगा कि आप भ्रष्टाचार के खिलाफ कुछ सीधे कदम जरूर उठाएंगे। इसके आगे उन्होंने कहा कि मैंने भी खुलकर आपका साथ दिया खासतौर पर जब अमानतुल्ला के माध्यम से आपके खिलाफ साजिश शुरू की गई। मुझे लगा भष्टाचार पर बोलने की सजा शायद आपको दी जाएगी, हमें खुलकर आपका साथ देना चाहिये। 
फिर जो हुआ, वो हैरान करने वाला था। अरविंद केजरीवाल आपके घर आते हैं। आप उठकर उनके घर जाते हैं। वहां एक बन्द कमरे में मीटिंग होती हैं और उस मीटिंग में आप, अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और संजय सिंह होते हैं, बस और कोई नहीं। किसी को कुछ नहीं बताया जाता और अगले दिन आप बन जाते हो राजस्थान के प्रभारी। भ्रष्टाचार के सारे सवाल खत्म हो जाते हैं और उस दिन से आप बिलकुल चुप।
Share This Post