नाबालिग बच्ची के ऊपर बंदूक रखा और ले गये मदरसे में.. सीतापुर में कुचला गया बचपन


उत्तर प्रदेश के सीतापुर जनपद के सदरपुर थाना इलाके से एक नाबालिग बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है जहाँ हथियारों से लैस चार हैवान दरिन्दे सरेआम एक नाबालिग किशोरी का अपहरण कर उसे मदरसे के अंदर के खींच ले गये तथा गेंगरेप किया. इसके बाद नाबालिग पीड़िता को मदरसे से बाहर कर जान से मार देने की धमकी देते फरार हो गये. पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर पीड़िता को डॉक्टरी जांच के लिए भेजा है.

जबरन मार पीट कर “जय श्रीराम” बुलवाने वाला हिन्दू नहीं बल्कि कोई और ही निकला.. साजिश का पर्दाफाश

खबर के मुताबिक़, सदरपुर थानाक्षेत्र के एक गांव में रहने वाली एक 13 साल की किशोरी 26 जून की शाम करीब आठ बजे घर से शौच के लिए निकली थी. आरोप है कि गांव के बाहर निकलते ही एक सन्नाटे वाली जगह पर राशिद, नदीम, वाहिद तथा तसुव्वर ने उसका रास्ता रोक लिया. किशोरी जब तक कुछ समझ पाती चारों लोग उसे जबरन खेत की ओर खींच ले गये. किशोरी ने शोर मचाया तो दबंगों ने उस पर तमंचा तान दिया. बाद में यह लोग किशोरी को पास में एक मदरसे में ले गये और चारों ने बारी-बारी से किशोरी के साथ दुष्कर्म किया.

वाहन ओवरटेक के मामले को जोड़ दिया “जयश्रीराम” कहने से.. रची जा रही भगवा आतंक से भी गहरी साजिश

पीड़िता ने घर पहुंचकर परिवारीजनों को आपबीती सुनाई तो उनके होश उड़ गए. दबंगों के खौफ से पीड़ित परिवार तुरंत पुलिस के पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा सका. किशोरी की हालत बिगड़ने पर पड़ोसियों को इस दुस्साहसिक वारदात की भनक लगी तो गांव में तनाव फैल गया. ग्रामीणों के हिम्मत बंधाने पर शनिवार को पीड़िता ने सदरपुर पुलिस को घटना की तहरीर दी. पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म व पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है. थानाध्यक्ष सदरपुर थानाध्यक्ष सदरपुर का कहना है कि पीड़िता की तहरीर पर सभी आरोपियों के विरुद्ध दुष्कर्म व पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है. जल्द सभी आरोपी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share