बोली लव जिहाद की शिकार… हाँ उसने मुझे बर्बाद कर दिया पर मैं बिकने के लिए तैयार नहीं

योगी आदित्यनाथ शासित उत्तर प्रदेश के संभल जिले से लव जिहाद का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. लव जिहाद हुई युवती को तीन महीने तक लव जिहादी शावेद ने अपनी कैद में रखा, उसके बाद युवती किसी तरह उसके चंगुल से छूटकर भागी व आपने घर आई. इसके बाद युवती ने जो आपबीती बताई है, उसे सुनकर हर कोई दंग रह गया. पीड़िता ने बताया कि लव जिहादी युवक शावेद का परिवार उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराकर उसे बेचे जाने की तैयारी कर रहा था.

खबर के मुताबिक़, मामला संभल जनपद के हयातनगर थाना क्षेत्र के गांव हसनपुर मुन्ज्वता गांव का है. पीड़िता ने बताया कि आरोपी शावेद करीब 2.5 साल पहले उसके भाई के संपर्क में आया था. धीरे-धीरे आरोपी की उनके घर आना-जाना शुरू हो गया. उनसे बताया कि आरोपी ने अपनी को मौर्य जाति का बताया थी. आरोपी ने धीरे-धीरे परिवार को विश्वास में लेकर दिल्ली स्थित एक शिव मंदिर में हिन्दू रीति रिवाज से शादी कर ली. शादी के कुछ समय बाद जब वो संभल पहुंची, तब उसे ये जानकारी हुई कि उसने झूठ बोलकर शादी की है तथा वह मुसलमान है.

पीड़िता का आरोप है कि इसके बाद शावीद के भाईयों ने उसका रेप करने की भी कोशिश की. पीड़िता का कहना है कि एक बार से उसे पकड़कर गांव के प्रधान के घर में भी कैद किया गया. पीड़िता का आरोप है कि आरोपी शावेद उससे शादी के बाद दूसरी शादी की तैयारी कर रहा था. पीड़िता का आरोप है कि इसके लिए उसका वीजा और पासपोर्ट बनवाने की कोशिशे की जा रही थी. उसने बताया कि उसके ससुराल वालों ने उसकी आंखों में पट्टी बंधवाकर एक पेपर पर सिग्नेचर भी कराए हैं. इतना ही नहीं, उसे जबरन मीट खिलाने को कोशिश की गई और नमाज और कलमा पढ़ने के लिए भी मजबूर किया गया. जब उसने इसका विरोध किया, तो उसके साथ मारा-पीटा गया और एक कमरे में बंद कर दिया गया.

महीने से उसके घर में कैद छात्रा सोमवार (26 नवंबर) की रात किसी तरह युवक के चंगुल से छूट कर बीजेपी के जिला अध्यक्ष के दफ्तर पहुंच गई. इस दौरान आरोपी युवक का भाई लड़की का पीछा करने की कोशिश की. लोगों ने जब देखा कि वह एक लड़की का पीछा कर रहा है तो उन्होंने उसकी जमकर पिटाई कर दी. मामले का खुलासा होने के बाद से आरोपी युवक फरार है. पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

Share This Post