Breaking News:

जो बुलन्दशहर को सही राह पर ला सकता था, वो आख़िरकार आ ही गया.. नए SSP संतोष कुमार सिंह के आने से खुश हैं बुलंदशहर वासी

उत्तर प्रदेश के 2 जिले जो अलग अलग छोर पर बने और बसे हैं . पहला है चंदौली जो बिहार की सीमा से सटा हुआ है और दूसरा सीमान्त है बुलन्दशहर जो NCR क्षेत्र को छूता है .. दोनों के बीच भौगोलिक रूप से काफी लम्बी दूरी है . यहाँ की भाषा बोली भी काफी अलग है लेकिन चंदौली को सम्भाल चुका एक पुलिस अधिकारी अब सम्भालेगा बुलन्दशहर को.. वो बुलन्दशहर जो लगातार चर्चा में रहा है किसी ने किसी मामले को ले कर अब माना जा रहा है सुरक्षित हाथों में .

विदित हो कि चंदौली को सुधार और संवार देने वाले पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह अब सम्भालेंगे जनपद बुलंदशहर की बागडोर. लगभग 3 वर्ष का शानदार और सफल कार्यकाल चंदौली में पूरा करने वाले संतोष कुमार सिंह के पुलिस कैरियर को जान कर बुलन्दशहर की जनता में हर्ष और आशा का माहौल है.. पिछले कुछ दिनों से पुलिस प्रमुख की अस्थिरता के चलते अस्त व्यस्त बुलन्दशहर पुलिस को अब स्थायित्व मिलेगा , ऐसा तय माना जा रहा है और हर कोई ऐसी आशा भी जता रहा है .

संतोष कुमार सिंह जी ने चंदौली में न सिर्फ अपराध का सख्ती से दमन किया था बल्कि नक्सलवाद को भी पल पर के लिए फन नहीं उठाने दिया था . उनके लिए एक और बड़ी चुनौती थी कि बिहार में शराब बंदी होने के चलते सीमाओं से शराब की तस्करी न हो और ये चुनौती उन्होंने स्वीकार की थी और उनके कार्यकाल में उत्तर प्रदेश का बार्डर शराब के लिए सील रहा था. उनकी विदाई भी चंदौली जिले के लिए किसी यादगार पल से कम नहीं रही जब जनता और पुलिस एक साथ नम आँखों के साथ खड़ी थी.

बुलंदशहर में अपराध को दमन करना संतोष कुमार सिंह जी की प्रमुख प्राथमिकताओं में से एक होगा. महिला के सम्मान और स्वभिमान की रक्षा अब बुलंदशहर में चंदौली के स्वरूप में होगी ऐसा तय माना जा रहा है . उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिन आशाओ ने साथ संतोष कुमार सिंह को बुलन्दशहर की बागडोर सौंपी है खुद वहां की जनता ये मान रही है कि वो सभी अपेक्षाएं पूरी होंगी क्योकि संतोष कुमार सिंह का पुलिस जीवन बेदाग़ और निष्पक्ष रहा है ..

अभी हाल में ही जय श्री राम के नाम के दुरूपयोग की अफवाह का जिस शानदार अंदाज़ में इन्होने चंदौली में खंडन किया था वो एक मिसाल बना था . एक बेहद अनुभवी , जमीन से जुड़े हुए , हर हालात में खुद को ढाल लेने में सक्षम , धार्मिक प्रवित्ति के और न्याय प्रिय पुलिस प्रमुख के प्रयास बुलंदशहर को कितने समय में बदल पाते हैं ये आने वाला समय बताएगा लेकिन पुलिसकर्मियों में जो उत्साह और जनता में जो ख़ुशी देखने को मिल रही है उसके आधार पर ये माना जा सकता है कि बुलंदशहर की कानून व्यवस्था जरुर सुधरेगी.

रिपोर्ट –

राहुल पाण्डेय 

सहायक सम्पादक – सुदर्शन न्यूज 

मुख्यालय नोएडा 

मोबाइल – 9598805228


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share