गुजरात में आया लव जिहाद का मामला.. मॉडर्न लड़की को फर्क ही नहीं पड़ता था हिन्दू या मुस्लिम होने से

वो गुजरात के हाईटेक सिटी वड़ोदरा में रहती थी तथा आज की कथित मॉडर्न विचारधारा से प्रभावित थी. उसके माता-पिता ने उसको यही सिखाया था कि इस दुनिया में हिन्दू मुसलमान कुछ नहीं होता है बल्कि इंसानियत मायने रखती है. शायद कथित सेक्यूलरिज्म उनके अंदर कूट कूट कर भरा था. वो हिन्दू संगठनों को समाज के लिए खतरा मानते थे तथा कहते थे कि ये संगठन समाज में नफरत फैलाते हैं. लेकिन अब वो कह रहे हैं कि अगर उन्होंने हिन्दू संगठन की बातों को अनसुना न किया होता, लव जिहाद की साजिश को नजरअंदाज न किया होता तो आज उनकी बेटी की अस्मत न लूटी जाती.

हर तरफ प्रशंसा हो रही केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर की, जिनके नेतृत्व में सूचना प्रसारण मंत्रालय हिंदी में लाएगा “गीत रामायण”

इस केस की बड़ी बात ये है कि लव जिहाद की शिकार हुई ये किशोरी नाबालिग है तथा कुछ दिनों पहले 19 साल के तौसीफ इमरान खान के साथ इंस्टाग्राम के जरिए संपर्क में आई थी. यहीं से दोनों के बीच दोस्ती की शुरुआत हुई.   कथित सेक्यूलर विचारधारा की होने के कारण  लडकी ने तौसीफ से मुलाकात करना भी शुरू कर दिया. इसी दौरान एक दिन तौसीफ ने किशोरी से साथ बलात्कार की घटना को अंजाम दे डाला तथा डरा धमकाते हुए लंबे समय तक बलात्कार करता रहा.

26 जून: जन्मजयंती सेकेण्ड लेफ्टिनेंट रामा राघोबा राणे .. वो परमवीर जिन्होंने पाकिस्तान को उसके पहले ही दुस्साहस में चटा दी थी धूल

केवल इतना ही नहीं, इसके बाद तौसीफ ने पीड़ित लड़की के वीडियो और फोटोग्राफ्स को इंस्टाग्राम/टिक टॉक पर भी अपलोड किया. इसके बाद वो लगातार लड़की को ब्लैकमेल करता रहा. तौसीफ ने लड़की को अपनी जाल में फासाने के बाद उनके परिवार को भी जान से मारने की धमकी दी. लड़की द्वारा पुलिस को दिए बयान के मुताबिक, तौसीफ पीड़िता को कलमा पढ़ने और रोजा रखने के लिए मजबूर करता था. वो इस हद तक लड़की का ब्रेन वॉश कर चुका था कि लड़की पूरा दिन अपने फोन पर ही सोशल मीडिया के जरिए तौसीफ से बात करने में लगी रहती थी.

सरकार व जिला प्रशासन के सख्ती के बावजूद,मधुबन गांव में प्रधान व सिकेट्री के द्वारा शौचालय,आवास निर्माण में जबरदस्त भ्रष्टाचार का खेल सामने आया इसकी जांच की जाये तो करोड़ों का घोटाला सामने आयेगा

जब लड़की की मां को इस बारे में जानकारी मिली तो वो स्कूल पहुंची और स्कूल में पाया कि लड़की स्कूल में पढ़ाई के लिए आती ही नहीं है. मां ने जब लड़की से पूछा तो लड़की ने मां के सामने पूरी सच्चाई बयान कर दी. इसके बाद मां सीधा पुलिस स्टेशन में लड़के के खिलाफ शिकायत दर्ज करने पहुंची. मामले की जांच में पता चला कि तौसीफ इससे पहले भी एक और हिंदू लड़की की जिंदगी बर्बाद कर चुका है. 17 साल की उम्र में भी तौसीफ पर इसी मांजलपुर पुलिस थाने में पॉक्सो के तहत मामला दर्ज हो चुका है. फिलहाल ये मामला कोर्ट में है.

7 साल की बच्ची से बलात्कार करके उसको बेरहमी से मार डाला इमरान ने.. राष्ट्र मांग रहा अबिलंब मृत्युदंड

इस मामले में भी पुलिस ने तुंरत ही तौसीफ को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ जांच शुरू कर दी है. एसीपी वडोदरा एसबी कुंपावत का कहना है कि वडोदरा पुलिस ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए सभी स्कूल और शैक्षणिक संस्थानों के बहार पुलिस पैट्रोलिंग को बढ़ाने का फैसला किया है. इसके साथ ही पुलिस ये भी जांच कर रही है कि तौसीफ ने अब तक कितनी लड़कियों को अपने जाल में फंसाया है. साथ ही पुलिस ने तौसीफ के फोन को एफएसएल जांच के लिए भी भेजा है ताकि ये जांच कर पाए कि वो और कितनी लड़कियों को अपने जाल में फंसा चुका है और कितनी लड़कियों की जिंदगी बरबाद कर चुका है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

Share This Post