हिन्दू लड़की उसके निशाने पर थी जिसके चलते वो नाम बदलकर अहमद से बन गया विनोद.. जब सच सामने आया तब तक देर हो चुकी थी


ये खबर उन लोगों के गाल पर करारा तमाचा है जो कहते हैं कि लव जिहाद कुछ नहीं होता है तथा ये हिन्दू संगठनों द्वारा फैलाया गया भ्रम जाल है. फेसबुक पर विनोद नाम से आईडी बनाकर असलम ने दो साल पहले उस युवती को फंसाया तथा दोस्ती की. जब तक युवती को पता चला, तब तक उसकी आबरू लूटी जा चुकी थी लेकिन समय पर पुलिस के पहुँचने से काफी कुछ अनर्थ होने से बच गया.. वरना संभवतः असलम वही करता जो लव जिहाद की शिकार युवतियों के साथ मजहबी उन्मादियों द्वारा किया जाता है अर्थात देह व्यापार.

जिन केन्द्रीय बलों से सबसे ज्यादा समस्या थी ममता बनर्जी को, उन्हीं के हवाले हुए पश्चिम बंगाल

मामला देवभूमि उत्तराखंड के कोटद्वार का है जहाँ की पुलिस को 29 अप्रैल को सूचना मिली कि कोटद्वार स्टेशन पर एक आदमी किसी लड़की के साथ है जो संदिग्ध है. इस सूचना पर बाजार चौकी प्रभारी सतेंद्र भंडारी मय फोर्स मौके पर गए. लड़की की उम्र 19वर्ष  निवासी पौड़ी बताई जा रही है. लड़के ने अपना नाम विनोद सिंह बिष्ट निवासी दिल्ली बताया और कहा कि हम दोनों शादी करने वाले हैं।.पुलिस को शक हुआ और सख्ती से पूछताछ करने पर पता लगा कि इस आदमी का नाम असलम पुत्र माज़िद उम्र-40 वर्ष निवासी ग्राम-बिहार थाना नीमका जिला-सीकर राजस्थान, हाल निवासी 11 पॉकेट नरेला दिल्ली है.

2 मई – 1908 में आज ही राष्ट्र ने झेली थी कुछ जयचंदों की गद्दारी वरना राष्ट्र पहले ही हो गया होता स्वतन्त्र

पुलिस पूंछताछ में पता चला कि असलम कपड़ों में डाई करने का काम करता है जिसके दिल्ली में पत्नी और दो बच्चे भी है. उक्त लड़की रविवार को पॉलीटेक्निक का पेपर देने कोटद्वार आई थी, जहां असलम उससे मिलने आया और उसे होटल में ले जाकर उससे शादी का झांसा देकर दुष्कर्म कर वीडियो बनाया. लड़की ने बताया कि आरोपी ने उसे अपना नाम विनोद बिष्ट बताया था. दोनों की दोस्ती करीब दो साल पहले फेसबुक के माध्यम से हुई थी. असलम खुद को शिक्षा विभाग का अधिकारी बताता था. आरोप है कि शादी का झांसा देकर असलम ने उसके साथ बलात्कार किया और उसका अश्लील वीडियो बना लिया.

एक चायवाला प्रधानमंत्री बना था, अब दूसरा चायवाला बना मेयर.. जानिये संघर्ष की एक और जीवंत कथा

युवती ने विनोद सिंह बिष्ट उर्फ असलम के विरुद्ध थाना कोटद्वार पर पीड़िता को शादी का झांसा देने, गलत नाम-पता बताने, अश्लील वीडियो बनाने और बलात्कार करने के आरोप में अभियोग पंजीकृत कराया है जिस पर तत्काल असलम को गिरफ्तार कर लिया गया. असलम के कब्जे से मोबाइल (जिसमें पीड़िता की अश्लील वीडियो बनाई गई थी) को भी कब्जे में ले लिया गया है तथा पीड़िता का मेडिकल करवाया गया.

केजरीवाल के लिए अन्ना हजारे का वही बयान जो केजरीवाल दूसरों के लिए दिया करते हैं

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...